एक और बेटी ने बढ़ाया मान, आर्मी में बड़ा पद 23 साल की उम्र में हासिल

0
165
views
Aarmy-MH1-Mhone

23 साल की साक्षी ने ओलंपिक में देश के लिए पदक जीता तो हरियाणा की एक और बेटी इसी उम्र में आर्मी में ऊंचे पद पर पहुंच गई। शिक्षित और मध्यम वर्गीय परिवार की मात्र 23 वर्षीय बेटी की आर्मी के ज्यूडिशियल विभाग में एडवोकेट जनरल के पद पर नियुक्ति हुई है।

ये पहली महिला हैं, जो इतने बड़े पद तक पहुंची हैं। शहनाज के और उनके परिवार वालों को मुबारकबाद देने के लिये लोगों का तांता लगा हुआ है। मात्र 23 वर्षीय शहनाज़ रिटायर्ड मेजर सूबेदार आसू खान की बेटी हैं। शहनाज़ ने अपनी सफलता का श्रेय अपने पिता को दिया।

शहनाज ने बताया कि किस तरह अपने दूसरे प्रयास में आर्मी सिलेक्शन बोर्ड की लिखित परीक्षा को पास किया। किस तरह वो लोग फेस रीडिंग से लेकर आपके एटीटयूड और पर्सनल्टी के साथ साथ आपके अनुभव को भी काफी बारीकी से रीड करते है।