ऐसे मनाएं भाई दूज, इस शुभ मुहूर्त में लगाएं भाई को तिलक

0
371
views

इस साल  9 नवंबर यानी शुक्रवार को  भाई बहन के पवित्र प्रेम का त्यौहार भैया दूज मनाया जाएगा. ये त्योहार पांच दिवसीय दीपावली पर्व की श्रृंखला का अंतिम पर्व है. इस दिन बहन भाई का तिलक कर उसके दीर्घायु की प्रार्थना करती है. भाई भी बहन की सुरक्षा का संकल्प लेता है. बहन देवता की तरह अपने प्यारे भाई की आरती उतरती है.

पूजा की विधि

  • बहन चावल के आटे से पहले चौक बनाए.
  • इस पर भाई को विराजमान कर के उसकी पूजा करे.
  • भाई की हथेली पर चावल का घोल लगाकर पान, सुपारी, फूल रखकर उसके हाथ पर जल छिड़के
  • अब बहन भाई की आरती उतारे और उसके हाथों में कलावा बांधे.
  • अब बहन भाई को मिठाई खिलाए.
  • भाई अगर बड़ा है तो बहन उसके पैर छूकर आशीर्वाद ले
  • अगर भाई छोटा है तो भाई बहन का आशीर्वाद ले.

भैया दूज का शुभ मुहूर्त (Bhaiya Dooj Shubh Muhurt)

सुबह पूजा तिलक का मुहूर्त—–09:20 से 10:35 तक

दोपहर को तिलक का शुभ समय—-1:20 से 3:15 तक

संध्या काल के समय शुभ मुहूर्त—-4:25 से 5:35 तक और 7:20 से 8:40 तक

बहन जलायेगी चौमुखी दीपक
बहन सायंकाल गोधूलि बेला में यमराज के नाम से चौमुखी दीया जलाकर घर के बाहर रखती है जिसका मुख दक्षिण दिशा की ओर होता है. इसके पीछे दर्शन है कि भाई के प्राण की रक्षा होती है. भाई का चतुर्दिक विकास होता है. दैहिक, दैविक और भौतिक संतापों से भाई की सुरक्षा होती है.