केरल : बारिश, बाढ़ और तबाही, अब तक 70 से ज्यादा लोगों की मौत

0
269
views

केरल में कुदरत का कहर लगातार बरस रहा है औऱ लगभग पूरे केरल में तबाही का आलम है. कई इलाकों में मूसलाधार बारिश की वजह से हालात और खराब हो गए हैं. कोच्चि एयरपोर्ट को शनिवार तक के लिए बंद कर दिया गया है.

  • आज राज्य में 25 और लोगों की मौत की खबर है
  • बारिश और बाढ़ में मरने वालों की संख्या लागातार बढ़ती ही रही है.
  • रिपोर्ट्स के मुताबिक केरल में अब तक 67 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.
  • कुछ रिपोर्ट्स में मौतों का ये आंकड़ा 70 से 75 तक है.
  • अधिकारियों ने बताया कि राज्य में बाढ़ का खतरा बना हुआ है.
  • इस वजह से सभी 14 जिलों में अलर्ट जारी कर दिया गया है.
  • उत्तर में कासरगोड से लेकर दक्षिण में तिरूवनंतपुरम तक सभी नदियां उफान पर हैं.
  • मुल्लापेरियार समेत 35 बांधों के फाटक खोल दिए गए हैं.
  • खतरे की आशंका के मद्देनजर गुरुवार को केरल के सभी स्कूलों को बंद रखने का ऐलान किया गया है.

85 हजार से ज्यादा लोग शरणार्थी शिविरों में रुके

केरल में बाढ़ से 2000 से ज्यादा घरों को नुकसान पहुंचा है. राज्य में लोगों के लिए 718 राहत कैंप बनाए गए हैं. हजारों लोग शरणार्थी शिविरों में हैं. राहत एवं बचाव कार्यों के लिए NDRF की चार टीमें पुणे से केरल भेजी गई हैं. मुख्यमंत्री पिनारयी विजयन ने कहा कि भारी वर्षा अभी कुछ और दिन जारी रहेगी. स्थिति के बिगड़ने की आशंका बनी हुई है. पूरे राज्य में डेढ़ लाख से ज्यादा लोग राहत शिविरों में रखे गए हैं. मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह से राज्य में बाढ़ के हालात को लेकर चर्चा की है. प्रधानमंत्री ने सभी तरह की सहायता का आश्वासन दिया है.

शैक्षणिक संस्थानों में छुट्टी, परीक्षाएं स्थगित

केरल के मुख्यमंत्री विजयन ने कहा, प्रधानमंत्री ने राज्य के प्रति सकारात्मक रुख अपनाया है. ट्रेन सेवाएं बाधित हैं और सड़क परिवहन सेवाएं भी अस्तव्यस्त हैं. जगह-जगह सड़कें पानी में डूब गई हैं. अधिकारियों के अनुसार कसारगोड को छोड़कर बाकी सभी जिलों में शैक्षणिक संस्थानों में छुट्टी की घोषणा कर दी गयी है. कॉलेजों और महाविद्यालयों ने परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं.