कोच रवि शास्त्री इंग्लैंड में 1983 जैसी सफलता को दोहराना चाहते हैं

0
86
views

रवि शास्त्री 1983 वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे. एक खिलाड़ी के तौर पर ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल करने वाले शास्त्री आज भारतीय टीम के कोच हैं. इंग्लैंड में 30 मई से शुरू होने वाले वर्ल्ड कप में कोहली और कोच शास्त्री की जोड़ी का लक्ष्य भारत को एक और वर्ल्ड दिलाना है.

2007 से शुरू हुआ शास्त्री का कोचिंग सफर

शास्त्री का टीम इंडिया के साथ कोचिंग का सफर 2007 में शुरू हुआ था. उस समय के कोच ग्रैग चैपल के सिडनी लौट जाने के बाद शास्त्री ने उस साल बांग्लादेश दौरे के लिए भारतीय टीम की जिम्मेदारी संभाली थी. हालांकि इसके बाद वह कमेंट्री की दुनिया में लौट गए थे. 2014 में भारत के इंग्लैंड दौरे पर भी वह कमेंटेटर ही थे. भारत के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद बीसीसीआई ने शास्त्री को नई जिम्मेदारी दी. उन्हें टीम का डायरेक्टर बनाना तय किया गया था. हालांकि उस समय सवाल यह था कि क्या स्टार वर्ल्ड शास्त्री को उनके कॉट्रैक्ट के खिलाफ जाकर इस नई जिम्मेदारी को उठाने की अनुमति देगा. स्टार वर्ल्ड के प्रमुख उदय शंकर ने टीम की जरूरत को देखने हुए शास्त्री को नया रोल निभाने की अनुमति दे दी थी.