जन्मतिथि से छेड़छाड़ के दोषियों पर लगेगा दो साल का बैन- BCCI

0
142
views

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने खिलाड़ियों के लिए एक नया नियम बनाया है. अब अगर कोई खिलाड़ी अपनी उम्र के धोखाधड़ी का दोषी पाया गया तो उस पर उसके सभी मान्यता प्राप्त टूर्नामेंटों से दो साल के लिए प्रतिबंध लगाया जाएगा. बीसीसीआई ने अपने नए नियम से सभी राज्य संघ को सूचित कर दिया है.

बीसीसीआई ने अपना बयान जारी कर कहा, ‘खेल में जन्मतिथि से छेड़छाड़ को लेकर बीसीसीआई की जीरो टॉलरेंस की नीति है. अब बीसीसीआई के टूर्नामेंट में रजिस्ट्रेशन के दौरान जन्मतिथि के प्रमाण पत्र से छेड़छाड़ के दोषी क्रिकेटरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गई है.’

बीसीसीआई ने कहा, ‘सत्र की शुरुआत में जैसा की राज्य संघों को बताया गया, बीसीसीआई दोहराना चाहता है कि 2018-19 सत्र से जो भी क्रिकेटर अपनी जन्मतिथि से छेड़छाड़ का दोषी पाया जाता है, उसे अयोग्य घोषित किया जाएगा और बीसीसीआई के किसी भी टूर्नामेंट में खेलने से दो साल के लिए बैन किया जाएगा जो 2018-19 और 2019-2020 सत्र होगा.’

बता दें कि इससे पहले ऐसे मामले में क्रिकेटर पर एक साल का बैन लगता था. सितंबर में बीसीसीआई ने दिल्ली के खिलाड़ी जसकीरत सिंह सचदेवा को अंडर-19 टूर्नामेंट में खेलने के लिए जाली जन्म प्रमाण पत्र देने पर बैन कर दिया था.