जलियांवाला बाग नरसंहार ब्रिटेन के लिए ये घटना बेहद शर्मनाक-थेरेसा मे

0
242
views

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने 1919 में हुए जलियांवाला बाग नरसंहार पर ब्रिटेन की संसद में दुख जताया है, ब्रिटेन की प्रधानमंत्री ने इसे भारत-ब्रिटेन के इतिहास का शर्मनाक धब्बा करार दिया है. ब्रिटेन की संसद में बोलते हुए प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने कहा कि हमे अफसोस है जो कुछ हुआ और जिसकी वजह से लोगों को त्रासदी का सामना करना पड़ा.

ब्रिटेन की संसद में विपक्ष की लेबर पार्टी के नेता जर्मी कॉर्बन ने इस संबंध में मांग कि है कि जिन लोगों की इस नरसंहार में जान गई है उनसे माफी मांगी जानी चाहिए. बता दें, भारत जलियांवाला बाग हत्याकांड की 100वीं बरसी मना रहा है. भारत में ब्रिटिश शासन के दौरान ब्रिटिश सैनिकों ने रॉलेट एक्ट का विरोध कर रहे निहत्थे लोगों पर अंधाधुंध गोलियां चलाई थीं, जिसमें सैंकड़ों लोगों ने अपनी जान गई थी.

इस नरसंहार में ब्रिटेन के मुताबिक 400 लोग मारे गए थे वहीं भारत का मानना है कि इस नरसंहार में 1,000 से ज्यादा लोग मारे गए थे जिनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल थे. इससे पहले ब्रिटेन के एक पूर्व प्रधानमंत्री डेविड कैमरून ने जलियांवाला बाग नरसंहार को गंभीर रूप से शर्मनाक कृत्य बताया था. कैमरून 2013 में भारत दौरे पर आए थे.