अब पुलिस को नहीं दिखाना पड़ेगा ड्राइविंग लाइसेंस !

0
168
views

मोदी सरकार ने अपनी गाड़ी से यात्रा करने वाले लोगों के लिए एक अच्छी खबर दी है, पहले आप को अपनी गाड़ी के कागत और ड्राइविंग लाइसेंस अपने साथ रखना होता था, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा, सरकार ने डिजिलॉकर प्लेटफॉर्म बनाया है, जहां आप ऑनलाइन इस सभी कागजों को संभाल कर रख सकते हैं, इतना ही जरूरत पड़ने पर आप इन्हे पुलिस या फिर किसी को भी दिखा सकते हैं

    • इस सुविधा का लाभ लेने के लिए इसके लिए आपको केंद्र सरकार की ओर से शुरू किए गए डिजिलॉकर या फिर परिवहन मंत्रालय के एमपरिवहन प्लेटफॉर्म पर अपनी डिटेल्स डालनी होंगी.
    • ड्राइविंग लाइसेंस और वाहन पंजीकरण सर्टिफिकेट को साथ रखने की अनिवार्यता खत्म कर दी गई है
    • सरकार ने सभी राज्यों को भी इसके लिए निर्देश दिए गए हैं.
    • सभी दस्तावेजों को डिजिलॉकर या एमपरिवहन प्लेटफार्म के माध्यम से इलेक्ट्रॉनिक रूप में पेश कर पर इसे स्वीकार किया जाएगा
    • राज्यों से कहा गया है कि आधिकारिक प्लेटफार्मों के जरिए पेश किए गए सभी कागजात मान्य होंगे

कैस करें इस्तेमाल

  • इसके लिए आपको digilocker.gov.in वेबसाइट पर जाना है.
  • यहां से आप डिजिलॉकर एप को डाउनलोड कर सकते हैं.
  • इसके बाद आप अपना डिजिलॉकर अकाउंट खोल सकते हैं.
  • इसके लिए आपको मोबाइल नंबर डालना पड़ता है.
  • फिर वन टाइम पासवर्ड (OTP) आपके मोबाइल नंबर पर आएगा जिसे इस्तेमाल कर मोबाइल नंबर को ऑथेंटिकेट कर सकते हैं.
  • फिर यूजरनेम और पासवर्ड सेलेक्ट करना होगा.
  • डिजिलॉकर अकाउंट बनने के बाद आप अपने डॉक्यूमेंट अपलोड कर सकते हैं.
  • डिजिलॉकर की अन्य सेवाओं का लाभ उठाने के लिए आप अपना आधार नंबर भी दे सकते हैं.

निर्देश में और क्या है..

सलाह में स्पष्ट किया गया है कि डिजिलॉकर में नागरिकों को दस्तावेजों को इलेक्ट्रॉनिक रूप में रखने की सुविधा है. इसमें कहा गया कि नए वाहनों के बीमा और पुराने वाहनों के बीमा रिन्युएल की जानकारी भी बीमा सूचना बोर्ड द्वारा दैनिक आधार पर अपलोड की जा रही है और यह मंत्रालय के एमपरिवहन और ई-चालान एप में भी दिखता है.