डोकलाम के बाद अब लद्दाख में चीन की घुसपैठ

0
251
views

डोकलाम विवाद के बाद चीन एक बार फिर भारत की दहलीज पर कदम रखने की कोशिश कर रहा है, डोकलाम के बाद अब चीन 4,057 किलोमीटर लंबे एक्चुअल लाइन ऑफ कंट्रोल पर अलग-अलग जगहों पर भारतीय सीमा पर अतिक्रमण कर रहा है. जानकारी के मुताबिक पिछले महीने पूर्वी लद्दाख के डेमचोक सेक्टर में चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी के जवान भारतीय सीमा में 300 से 400 मीटर तक अंदर घुस आए और 5 टेंट लगा दिए.

  • रक्षा प्रतिष्ठानों से जुड़े सूत्रों के अनुसार दोनों देशों की सेनाओं के बीच ब्रिगेडियर स्तर की बातचीत के बाद PLA ने चेरडॉन्ग-नेरलॉन्ग नाल्लान इलाके में 3 टेंट हटा लिए
  • हालांकि 2 टेंट अभी भी बचे हुए हैं और उनमें चीन के सैनिक अभी भी मौजूद हैं
  • सेना से उसका पक्ष जानने की कोशिश की गई लेकिन उसने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया
  • सूत्रों के अनुसार PLA के सैनिकों ने जुलाई के पहले हफ्ते में भारतीय सीमा में घुसपैठ की
  • भारतीन सेना के बार-बार कहने पर भी वे वापस नहीं लौटे जिसके बाद LoC पर टकराव की स्थिति ना बनें इसके लिए भारत के सैनिकों ने बैनर ड्रिल भी की
  • यानि उन्हें झंडे दिखाकर अपने क्षेत्र में वापस लौट जाने के लिए कहा लेकिन उसके बावजूद भी चीनी सैनिक पीछे नहीं हटे
आपको बता दें कि डेमचोक Loc पर चिह्नित 23 ‘विवादित और संवेदनशील इलाकों’ में से एक है जो पूर्वी लद्दाख से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक फैला हुआ है. इस सेक्टर में अकसर दोनों देशों की सेनाओं के बीच गतिरोध होता रहता है. दोनों सेनाएं एक दूसरे पर अतिक्रमण करने का आरोप लगाती रही हैं. लद्दाख के दूसरे विवादित इलाकों में त्रिग हाइट्स, डमचेले, चुमार, स्पैन्गुर गैप और पैन्गॉन्ग सो शामिल हैं. गौरतलब है कि डोकलाम पर सीमा विवाद को लेकर भारत और चीन की सेना ने आमने-सामने रह कर 73 दिन बिता दिए थे.