दिसंबर 2021 में अंतरिक्ष में भेजा जाएगा भारत का पहला मानव मिशन- ISRO

0
148
views

भारत दिसंबर 2021 में अपना पहला मानव मिशन अंतरिक्ष में भेजेगा. इससे पहले दिसंबर 2020 और जुलाई 2021 में मानवरहित अभियान भेजे जाएंगे. इसरो प्रमुख के सिवान ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी.

इसरो प्रमुख के सिवान ने कहा कि गगनयान मिशन इसरो के लिए मेजर टर्निंग पाइंट होगा. उन्होंने बताया कि मानवरहित मिशन के लिए पहली डेडलाइन दिसंबर 2020 तय की गई है, जबकि दूसरी डेडलाइन मानवरहित मिशन के लिए जुलाई 2021 तय की गई है. साथ ही उन्होंने बताया कि पहले मानवीय मिशन के लिए दिसंबर 2021 का समय तय किया गया है.

इसरो प्रमुख ने बताया कि गगनयान के लिए शुरुआती ट्रेनिंग भारत में ही होगी, लेकिन अडवांस ट्रेनिंग के अंतरिक्ष यात्रियों को रूस जाना पड़ सकता है. सिवान ने बताया कि देशभर में 6 इंक्यूबेशन और रिसर्च सेंटर, स्थापित किए जाएंगे, ताकी भारतीय विद्यार्थियों को अभी नासा जाना पड़ता है इस प्रोग्राम के बाद वे यहां वो सभी चीजें समझ पाएंगे.

गगनयान में जाने वाले अंतरिक्ष यात्रियों के चयन पर इसरो प्रमुख ने कहा कि सभी क्रू मेंबर्स भारत से होंगे, भारतीय एयरफोर्स के जवान होंगे, सिविलियन भी हो सकते हैं, जो भी चयन के पैमाने पर खरा उतरेंगे वही जाएंगे. उन्होंने कहा कि महिलाओं को भी अवसर है. चयन संबंधित फैसले सिलेक्शन कमेटी करेगी.

साथ ही उन्होंने बताया कि भारत के दूसरे चंद्र अभियान चंद्रयान-2 को इस साल मध्य अप्रैल में प्रक्षेपित किए जाने की योजना है. इससे पहले इसरो ने कहा था कि चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण इस साल जनवरी से 16 फरवरी के बीच किया जाएगा. 800 करोड़ रुपये की लागत वाला यह अभियान करीब 10 साल पहले प्रक्षेपित किए गए चंद्रयान-1 का उन्नत संस्करण है.

इसके अलावा इसरो प्रमुख ने बताया कि इस साल जीसैट-20, जीसैट-29 सैटेलाइट लॉन्च किए जाएंगे. उन्होंने बताया कि सितंबर और अक्टूबर तक आने वाले इस सैटेलाइट से हाईस्पीड कनेक्टिविटी को बल मिलेगा. साथ ही डिजिटल इंडिया के सपने को पूरा करने में मदद मिलेगी.