पंचकूला : कार्यकर्ता ने अपने गांव की परेशानियां रखी समाने, तो CM मनोहर लाल ने लिया बड़ा फैसला

0
158
views

आज सियासत में संवेदनशीलता की कमी को लेकर खूब सवाल उठते हैं। आम लोगों का मानना है कि नेताओं का जनता की पीड़ा और समस्‍याओं से कोई सरोकार या लेना-देना नहीं है। इस सबके बीच कई बार ऐसे उदाहरण मिलते हैं कि जिससे लगता है कि यदि राजनीति में संवेदना और सामाजिक सरोकारों के प्रति रुझान आ जाए तो लोगाें की पीड़ा का सहज निदान हो सकता है। ऐसा ही कुछ हरियाणा में देखने को मिला है। हुआ यूं कि मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल से भाजपा के एक कार्यकर्ता ने अपने गांव की समस्‍या बताई तो उन्‍होंने पूरे प्रदेश के गांवों के लिए कदम उठा लिया।

दरअसल, इससे हरियाणा के गांव-देहात में बदहाल श्मशान घाट और कब्रिस्तानों के कायाकल्प की राह निकली। हुआ यूं कि मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल से मिलने भाजपा का एक कार्यकर्ता आया और उसने अपने गांव की समस्‍या बताई और इससे ग्रामीण विकास के एक अलग पहलू की शुरूआत हे गई। जागरण से बातचीत में मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने इस वाक्‍ये के बारे में बताया। सीएम ने बताया कि एक बार एक भाजपा कार्यकर्ता मेरे पास आया। वह बोला कि आज तक मैंने किसी नेता को कोई काम नहीं कहा, लेकिन मेरे गांव की एक समस्या है। लोग मुझे कहते हैं कि तुम भाजपा के कार्यकर्ता हो, मुख्यमंत्री से कहकर गांव का भला करा दो।