पत्रकार छत्रपति हत्याकांड में फैसले के चलते हरियाणा-पंजाब में सुरक्षा कड़ी

0
168
views

त्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या (chattrapati murder case) के मामले में आज पंचकूला की स्पेशल सीबीआई कोर्ट फैसला सुनाएगी. इस मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत सिंह राम रहीम आरोपी हैं. रोहतक की सुनारिया जेल में बंद डेरा प्रमुख गुरमीत सिंह राम रहीम की पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से ही होगी. डेरा सच्चा सौदा, सुनारिया जेल और विशेष अदालत के बाहर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. वहीं पंजाब और हरियाणा पुलिस ने अलर्ट जारी किया है.

  • पंचकूला हिंसा से सबक लेते हुए हरियाणा पुलिस इस बार खासी चौकसी बरत रही है
  • इसी के मद्देनजर रोहतक जिले में सुरक्षा के खासा इंतजाम किए गए हैं.
  • खासकर रोहतक की सुनारिया जेल को छावनी में तब्दील कर दिया गया है.
  • वहां अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किया गया है.
  • इसी तरह से सिरसा के डेरा सच्चा सौदा को भी छावनी बना दिया गया है
  • सुरक्षाबलों और पुलिस के जवानों ने वहां फ्लैग मार्च भी किया.

पंजाब में भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम

  • मोगा में भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है
  • मोगा के नाम चर्चा घर के बाहर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है
  • आने जाने वाले वाहनों की चैकिंग की जा रही है.
  • पहले पुलिस गुरमीत सिंह राम रहीम की कोर्ट में पेशी को लेकर परेशान थी.
  • लेकिन बाद में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ही इस मामले में उसे पेश करने का फरमान जारी किया गया.
  • पुलिस को डर था कि अगर गुरमीत सिंह राम रहीम को पंचकूला की स्पेशल CBI कोर्ट में पेश किया गया तो ऐसे में कानून-व्यवस्था बिगड़ सकती है.
  • डेरा समर्थक बेकाबू हो सकते हैं. इसी के चलते हरियाणा सरकार ने पंचकूला की स्पेशल CBI कोर्ट में अपील की थी. जिसे कोर्ट ने मान लिया.

सुरक्षा के कड़े इंतजाम

  • पंजाब का मालवा क्षेत्र गुरमीत सिंह राम रहीम के प्रभाव वाला बड़ा इलाका है.
  • इसी के मद्देनजर वहां के 8 जिलों में सुरक्षा बलों की 25 कंपनियां तैनाती की गई हैं.
  • बठिंडा और मानसा जिले में करीब 15 कंपनियों के 1200 जवान तैनात किए गए हैं.
  • इसी प्रकार से फिरोजपुर, फरीदकोट, मोगा, और फाजिल्का में 10 कंपनियों के 700 जवान तैनात किए गए हैं.
  • सबसे ज्यादा सुरक्षाकर्मी कोटकपूरा, जैतो, बाघा पुराना और मोगा में तैनात किए गए हैं.
  • बरनाला में 150 अतिरिक्त जवान तैनात किए गए हैं.
  • जबकि बरनाला के बाजाखाना रोड और धनौला रोड स्थित डेरे से जुड़े नामचर्चा घरों के बाहर 50-50 सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं.