बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाई में अव्वल हिमाचल के तीन जिले

0
379
views

बेटियों के प्रति समाज को जागरूक करने में मंडी, शिमला और सिरमौर जिले देश भर में टॉप पर रहे हैं भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने तीनों जिला को अव्वल पाया है.

  • इसके लिए जिला को आगामी 7 अगस्त को पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाएगा.
  • एक साल के अंतराल में इस अभियान के तहत जिला को यह दूसरा पुरस्कार मिलने जा रहा है.
  • बता दें कि भारत सरकार के बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान को मंडी जिला में शुरू हुए अभी एक साल भी नहीं हुआ है.
  • इस छोटे से अंतराल में ही यह जिला इस अभियान के तहत दूसरा राष्ट्रीय पुरस्कार लेने जा रहा है.
  • मेरी लाडली’ अभियान से हुई थी शुरुआत
  • बता दें कि जब देश में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की शुरूआत हुई थी तो उस वक्त मंडी जिला को इसमें शामिल नहीं किया गया था.
  • लेकिन जिला प्रशासन ने ‘मेरी लाडली’ अभियान को अपने स्तर पर शुरू करके नई शुरूआत की और कुछ नया करके दिखाया.
  • 7 अक्तूबर 2018 को सीएम जयराम ठाकुर ने मंडी जिला में इस अभियान को विधिवत रूप से शुरू किया.
  • 24 जनवरी 2019 को डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर को दिल्ली में इसके लिए राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया.
  • अब एक बार फिर से जिला को इस अभियान के तहत बेहतर जागरूकता फैलाने में देश भर में अव्वल आंका गया है.
  • ADC मंडी आशुतोष गर्ग ने इस पुरस्कार के लिए पूरे जिला की जनता को बधाई दी है. उन्होंने कहा कि जनता के सहयोग से ही इस अभियान का जिला में सही ढंग से संचालन हो पा रहा है.

गांव-गांव में फैलायी गई जागरूकता

बता दें कि जिला में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत लैंगिक असंतुलन को दूर करने के लिए पूर्ण प्रतिबद्धता से कार्य करने के साथ-साथ लड़कियों की शिक्षा, सुरक्षा, स्वास्थ्य, सम्मान, स्वाभिमान और अधिकारों को लेकर जागरूकता बढ़ाने के लिए काम किया जा रहा है. इसके लिए प्रशासन ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत स्त्री अभियान के माध्यम से महिला मंडलों का सहयोग लेकर गांव-गांव में काम किया है.