सेल्फी की दीवानगी लोगों को बना रही है बीमार

0
197
views

सेल्फी की दीवानगी अब नई बात नहीं रही. इसके लिए देश और दुनिया के लोग अजीबोगरीब तरीका तक अपनाते हैं. सेल्फी के दीवाने किसी मातम या अस्पताल में होने पर भी सेल्फी लेने से नहीं चूकते. अमिताभ बच्चन ने तो ऐसी अजीब सी दीवानगी पर दुख जताया है और यह भी कहा है कि कहां खो रही है हमारी संवेदनशीलता. पर दीवानगी हद से बढ जाए तो ऐसा ही होता है.

सेल्फी के इस पागलपन का ही असर है कि अब बाजार ने इसे भुनाना शुरू कर दिया है. अब तो रेस्तरां हो या शॉपिंग मॉल, वहां भी फोटो लेने के लिए एक सुंदर सा कोना जरूर बना होता है. इतना ही नहीं, सेल्फीत की दीवानगी देखते हुए प्रयागराज कुंभ तक में ‘सेल्फील प्वांलइट’ बनाया गया है. सेल्फी की उस दीवानगी को अब क्या कहेंगे जो इस कदर बीमार कर दे कि खुद से प्यार न रहे, औरों जैसा बनना चाहें.

सोशल मीडिया पर सेल्फी पोस्ट करने का चलन ऐसा रूप ले लेगा, ये किसी ने सोचा नहीं होगा. एक हालिया अध्ययन के मुताबिक, सेल्फी लेने का ऐसा विनाशकारी प्रभाव सामने आया है कि लोग अपने रंग-रूप और चेहरे में भी बदलाव करने की राह पर चल पड़े हैं. वे कॉस्मेटिक सर्जरी कराकर और सुंदर दिखना चाहते हैं. कोई प्रियंका चोपड़ा की तरह नाक चाहता है तो किसी को चाहिए एंजेलिना जॉली जैसे होंठ. सबकी अपनी अपनी पसंद है और इस पसंद को सच में बदलने की होड लग गई है.