हनुमान जी को प्रसन्न करने का ये है सबसे उत्तम उपाय

0
270
views

संकटमोचन कहलाने वाले भगवान हनुमान जी की जयंती इस साल 19 अप्रैल यानी शुक्रवार को मनाई जाएगी. आपको  बता दें, चैत्र पूर्णिमा को हनुमान जी के जन्मदिन के रूप में मनाते हैं. माना जाता है कि इस दिन कोई भी नया काम  शुरू करना बेहद शुभ होता है.

हनुमान जयंती व्रत पूजा विधि

  • इस  व्रत को रखने वाले व्यक्ति को कुछ खास नियमों का पालन करना होता है.
  • व्रत रखने वाले व्रत की पूर्व रात्रि से ब्रह्मचर्य का पालन करें.
  • कोशिश करें कि जमीन पर ही सोये, सुबह ब्रह्म मुहूर्त में उठकर प्रभू श्री राम, माता सीता और हनुमान जी का स्मरण करें.
  • हनुमान जी की प्रतिमा स्थापित करके उसकी विधिपूर्वक पूजा करें.
  • पूजा करते समय हनुमान चालीसा और बजरंग बाण का पाठ करें. इसके बाद हनुमान जी की आरती उतारें.
  • शाम को लाल कपड़ा बिछाकर हनुमान जी की मूर्ति या फोटो को दक्षिण मुंह करके स्थापित करें.
  • खुद लाल आसान पर लाल कपड़ा पहनकर बैठ जाएं.
  • घी का दीपक और चंदन का धूप जलाएं.
  • चमेली तेल में घोलकर नारंगी सिंदूर और चांदी का वर्क चढ़ाएं.
  • इसके बाद लाल फूल से पुष्पांजलि दें.
  • लड्डू या बूंदी या केले के प्रसाद का भोग लगाएं.
  • दीपक से 9 बार घुमाकर आरती करें.
  •  मन्त्र ॐ  मंगलमूर्ति  हनुमते नमः का जाप करें.

हनुमान जयंती के दिन बजरंगबली की विधिवत पूजा पाठ करने से शत्रु पर विजय मिलने के साथ सभी मनोकामनाएं भी पूरी होती है.