31,700 करोड़ रुपए में बिक गया अापका Horlicks

0
283
views

सौ साल से देश में एनर्जी सप्लिमेंट की तरह इस्तेमाल हो रहे हॉर्लिक्स को देश की सबसे बड़ी कंज्यूमर कंपनी हिंदुस्तान यूनीलीवर यानी HUL ने खरीद लिया है. HUL ने सोमवार को बताया कि उसने हॉर्लिक्स बनाने वाली कंपनी गैल्कसोस्मिथक्लाइ (GSK) कंज्यूमर की HULके साथ मर्जर की मंजूरी दे दी है. इस मर्जर के लिए HUL को 31,700 करोड़ रुपये खर्च करने पड़े.

देश की सबसे बड़ी कंज्यूमर उत्पाद डील में GSK के एक शेयर के मुकाबले HUL के 4.39 शेयर रखे गए. इस डील के साथ GSK के न्यूट्रिशन बिजनस के अलावा सेंसोडाइन, ओरल केयर ब्रैंड्स और ईनो, क्रोसीन समेत कई ओवर-द-काउंटर (OTC) के डिस्ट्रीब्यूशन राइट्स भी अब HUL को मिल गया है.

गौरतलब है हॉर्लिक्स ने प्रथम विश्वयुद्ध (1914-18) के बाद ब्रिटिश आर्मी के साथ भारत में एंट्री ली थी. एंट्री के बाद हॉर्लिक्स को ब्रिटिश आर्मी में भारतीय सैनिकों को सप्लीमेंट फूड के तौर पर दिया जाता था. आजादी के बाद कंपनी ने ह़र्लिक्स की मार्केटिंग स्ट्रैटेजी को बदलते हुए हॉर्लिक्स की  ब्रांडिंग मध्यम वर्गीय परिवार के बीच करने के लिए इसे बच्चों की ग्रोथ के लिए अहम पोषण ड्रिंक के तौर पर पेश किया.

हालांकि इंग्लैंड में हॉर्लिक्स का ब्रांड 140 साल पुराना है और एचयूएल के साथ हुई इस डील में कंपनी का इंग्लैंड में कारोबार नहीं प्रभावित होगा. इंग्लैंड में इसकी ओनरशिप GSK के पास ही रहेगी.