5 भाई-बहनों ने पिता के खाते से उड़ाए 1.76 करोड़, पुलिस जांच में जुटी

0
150
views

गुरदासपुर में पिता की मौत के बाद बेटे ने धोखे से उनके बैंक खाते में पड़ी करीब 1.76 करोड़ रुपए की राशि उड़ा ली. इस जालसाजी को अंजाम देने के लिए उसने अपने पांच भाई-बहनों के जाली हस्ताक्षर किए, जबकि चार भाइयों को इसकी भनक तक नहीं लगने दी. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है.

 

गुरबख्श सिंह निवासी कोठे घराला ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उनके पिता हरभजन सिंह निवासी कोठे घराला की मौत 27 जुलाई 2016 को हो गई थी। पिता का केनरा बैंक में खाता था, जिसमें करीब 1.76 करोड़ रुपए जमा थे. पिता की मौत के बाद वे नौ भाई-बहन उनके वारिस थे क्योंकि माता शीला देवी की पिता की मौत से पहले ही मौत हो चुकी थी. शादीशुदा न होने के कारण वह अपने भाई सुखविंदर सिंह के पास ही रहता था. पुलिस ने केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है.

 

एक भाई बोला पहले जमीन धोखाधड़ी कर अपने नाम कराई थी

विश्वासघात- जैसा भाई कहता वैसे ही करते गए…गुरबख्श सिंह ने बताया कि बड़ा भाई होने के नाते सुखविंदर सिंह उसे जिस जगह पर भी साइन करने को कहता था, वह कर देता था. उसे इस बात की कोई भनक नहीं लगी कि सुखविंदर धोखाधड़ी कर उसका और बाकी बहन-भाइयों का हक खा रहा है क्योंकि बाकी सभी शादीशुदा होने के कारण गांव से बाहर रहते थे. इससे पहले सुखविंदर ने पिता के बीमार रहते समय उनके कई जगह पर हस्ताक्षर कराकर जमीन जायदाद भी अपने नाम कर ली थी.