चंडीगढ़: GMCH में 70 फीसदी अनफिट डॉक्टर कर रहा है मरीज़ों का इलाज !

0
583
views

चंडीगढ़ के सेक्टर 32 के जीएमसीएच में जो खिलवाड़ लोगों की जान से हो रहा है. उसे देख और सुन आप चौंक जाएंगे. इस सरकारी अस्पताल के वायरल हो रहे एक वीडियो ने लोगों को परेशान और हैरान कर दिया है. दरअसल, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इस खबर के मुताबिक यहां सर्जरी विभाग में नियुक्त डॉक्टर मयंक जयंत मानसिक रूप से बीमार हैं. बावजूद इसके इस अस्पताल में उनकी तैनाती की गई है.वो भी सर्जरी डिपार्टमेंट में, इतना ही नहीं बकायदा नियुक्ति के अलावा डॉक्टर मयंक जयंत को एक सहायक भी दिया गया है. जिसके साथ मारपीट के आरोप भी डॉक्टर मयंक पर लगते रहे हैं.

वहीं, आरोप हैं कि जहां डॉक्टरों के सुबह साढ़े नौ बजे तक पहुंचने के आदेश है, लेकिन डॉक्टर मंयक के आने के कोई समय तय नहीं हैं और सिर्फ दो घंटे ही सेवाएं देते हैं. दरअसल 6 दिसंबर दो हजार चौदह को डॉक्टर मयंक जयंत को चोटें लगी थी.  वहीं, 70 फीसदी विक्लांगता के बाद बिना मेडिकल फिटनेस के उन्हें अनुमति दी गई.

26 दिसंबर 2017 को लगाई गई आरटीआई के जरिए जानकारी मिली कि डॉक्टर मयंक किसी भी पद पर अस्पताल प्रशासन के अधीन काम नहीं कर रहे हैं. डॉक्टर मयंक जयंत की मानसिक स्थिति देखते हुए सर्जरी विभाग के एचओडी और प्रोफेसर डॉक्टर एके अत्री ने भी डॉक्टर मयंक को किसी भी सर्जरी के लिए अयोग्य माना है. 20 फरवरी 2018 की रिपोर्ट के मुताबिक डॉक्टर मयंक न तो सर्जरी कर सकते हैं, और ना ही प्राध्यापक के पद पर तैनात हो सकते हैं और ना ही ओपीडी विभाग पर अपनी सेवाएं दे सकते हैं. बावजूद इसके इस वायरल वीडियो की मानें तो डॉक्टर मयंक अस्पतालों में अपनी सेवाएं दे रहे हैं. जो प्रशासनिक कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़ा कर रहा है.