पंजाब में जहरीली शराब पीने से 86 की मौत, 13 अफसरों पर गिरी गाज

0
192
views

जहरीली शराब पीने से अब तक तीन जिलों तरनतारन, अमृतसर ग्रामीण और गुरदासपुर में अब तक 86 लोगों की जान जा चुकी है. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मृतकों के परिवारों को 2-2 लाख रुपये एक्स-ग्रेशिया मुआवजा देने का ऐलान किया है. जहीरीली शराब से शुक्रवार को 48 लोगों की जान गई थी, जबकि शनिवार को 38 और लोगों ने दम तोड़ दिया.

अकेले तरनतारन में जहरीली शराब से 63 लोगों की मौत हो हुई है. यहां शुक्रवार को 30 लोगों की जान गई थी, शनिवार को 33 और ने दम तोड़ दिया. अमृतसर ग्रामीण में कल 10 और शनिवार को 2 लोगों की मौत हुई. इसी तरह और गुरदासपुर में 11 शुक्रवार को 8 और शनिवार को 3 लोगों की मौतें हुई हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मामले में किसी भी सरकारी कर्मचारी या अन्य की मिलीभगत सामने आने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने नकली शराब बनाने और बेचने से रोकने में पुलिस और आबकारी विभाग की नाकामी को शर्मनाक करार दिया. उन्होंने कहा कि किसी को भी हमारे लोगों को जहर पिलाने की हरगिज इजाजत नहीं दी जाएगी.

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जहरीली शराब मामले में शनिवार को आबकारी एवं कराधान विभाग के 7 अधिकारी व इंस्पेक्टर और पंजाब पुलिस के दो डीएसपी व चार एसएचओ को निलंबित कर इनके खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं.