90 साल के इस बुजुर्ग के हौसले के आगे पर्वतारोही भी नतमस्तक, बना डाला कीर्तिमान

0
199
views
himachal-mh1-mhone

90 साल के बुजुर्ग परस राम के हौसले के आगे बड़े से बड़ा पर्वतारोही भी नतमस्तक हो जाए। उम्र के इस पड़ाव को छूने के बाद अमूमन इंसान शारीरिक दुर्बलता और बीमारियों के कारण बिस्तर का दामन थाम लेता है, लेकिन बुजुर्ग परस राम आज भी आस्था, हौसले और जुनून के दम पर हिमालय के गगनचुंबी पहाड़ों और दर्रों को अपने कदमों से नाप रहे हैं।

हिमाचल की लाहौल घाटी के गाड़ंग गांव के परस राम कुछ रोज पहले ही समुद्र तल से 16 हजार फुट ऊंचे कुगती दर्रा को पैदल पार कर मणिमहेश दर्शन करके सकुशल घर लौट आए हैं। लगभग 80 किलोमीटर लंबी इस यात्रा को पूरी करने में उन्हें 4 दिन का वक्त लगा। इस दौरान परस राम ने कुगती दर्रा के अलावा पीर पंजाल की 14 से 17 हजार फुट ऊंची कई चोटियों को अपने कदमों से नापा।