अमेरिका की पाक को चेतावनी : भारत को तेवर दिखाने की बजाय आतंकियों पर कार्रवाई करें

0
115
views

अमेरिका ने अनुच्छेद 370 हटाने पर परोक्ष रूप से भारत का समर्थन किया है. उसने पाकिस्तान को चेतावनी दी है कि वो बदले की भावना से भारत को आक्रामकता दिखाने की बजाय अपने यहां आतंकियों पर कार्रवाई करे और एलओसी पर घुसपैठियों की मदद करना छोड़े. बता दें कि अमेरिका पहले भी कई बार ये बात कह चुका है. अमेरिका ने भारत को भी हिदायत दी है कि वो जम्मू-कश्मीर में नागरिकों के अधिकारों की रक्षा करे. अमेरिकी हाउस फॉरेन अफेयर्स कमेटी और सीनेट फॉरेन रिलेशन कमेटी ने बुधवार को एक संयुक्त बयान में ये बात कही.

 

अमेरिका ने यह भी कही कि लोकतंत्र में पारदर्शिता और राजनीतिक सहभागिता सबसे अहम है. उम्मीद है कि भारत सरकार जम्मू-कश्मीर में इन बातों का ध्यान रखेगी. भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है. लिहाजा उसकी ये जिम्मेदारी हो जाती है कि सभी नागरिकों को अहमियत मिले और उनके अधिकारों की रक्षा हो मसलन उन्हें सभा और सूचनाओं को साझा करने का हक मिले और सुरक्षा का अधिकार हो.

 

इमरान ने ब्रिटिश पीएम और सऊदी क्राउन प्रिंस से बात की

वहीं, अनुच्छेद 370 हटाने के भारत सरकार के फैसले से पाकिस्तान में घबराहट है. इसके चलते पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को अपने ब्रिटिश समकक्ष बोरिस जॉनसन और सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान से बात की. दोनों नेताओं से चर्चा का मुख्य मुद्दा अनुच्छेद 370 का खात्मा और जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म किया जाना था.

 

3 दिन पहले खत्म किया गया अनुच्छेद 370

5 अगस्त को मोदी सरकार ने अनुच्छेद 370 हटाते हुए जम्मू-कश्मीर का राज्य का दर्जा खत्म कर दिया था. अब जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दो अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश होंगे और जम्मू-कश्मीर में 20 जिले और विधानसभा होगी. लद्दाख में 2 जिले होंगे.