अमृतसर : बैन के बाद भी बेलगाम ‘ड्रैगन डोर’

0
164
views

प्रशासन द्वारा पाबंदी लगाए जाने के बावजूद ‘ड्रैगन डोर’ यानी चाइनीज मांजा अमृतसर की गलियों में धड़ल्ले से बिक रहा है.  इस डोर के वजह से हर साल दर्जनों हादसे होते हैं लेकिन इसके बावजूद इस डोर की बिक्री को बैन के अलावा और कोई कार्रवाई  नहीं होती, कुछ पतंग विक्रेताओं द्वारा चंद पैसे कमाने के चक्कर में मासूम बच्चों की जान से खेला जा रहा है लेकिन सख्त कानून नहीं होने के कारण अब तक इस मामले में कोई कड़ी कार्रवाई नहीं हो सकी

शहर में ड्रैगन डोर ने रामनगर कॉलोनी के एक घर में तांडव मचा दिया. 65 वर्षीय रामनाथ के छत के ऊपर हाथ से ड्रैगन डोर टच हुई और जोरदार धमाका हुआ. धमाके के कारण रामनाथ बुरी तरह झुलस गए। साथ ही घर के लैंटर पर दरारें पड़ गईं. घर के सभी ​बिजली उपकरण जलकर खराब हो गए. धमाका इतना जबरदस्त था कि रामनगर कॉलोनी भूकंप की तरह थर्ररा उठी.

दरअसल अस्पताल में लैबोरेट्री टेक्निशियन के रूप में सेवानिवृत्त रामनाथ सिंह अपने घर की छत पर पौधों को पानी दे रहे थे। नंगे पांव जैसे ही वह छत पर पहुंचे तो वहां पड़ी ड्रैगन डोर 11000 किलोवॉट की तारों से टच कर गई. रामनाथ जब डोर को साइड पर करने लगे तो उस समय जबरदस्त धमाका हुआ.  उन्हें तत्काल निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया.