डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को रोहतक के जेल में 15 साल पुराने मामले में सज़ा सुनाई गई, लेकिन राजनीतिक रूप से प्रभावशाली गुरमीत राम रहीम को इस मामले में दोषी ठहराया जाना इतना आसान नहीं था. जान जोख़िम में डालकर अपने साथ हुए अन्याय की लड़ाई लड़ने वाली दो साध्वियों से लेकर सीबीआई के जांच अधिकारियों तक ने इस मामले में बेहद बड़ा ख़तरा मोल लिया है. जानिए, कौन थे ये लोग जिनकी वजह से दोषी ठहराए गए गुरमीत राम रहीम. 1 - वो दो साध्वियां जिन्होंने अपनी परवाह नहीं की इस मामले में दो साध्वियों ने अपनी जान की

रेप केस में दोषी डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के लिए सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने सजा का ऐलान कर दिया है. उनको 20 साल की सजा सुनाई गई है. कोर्ट ने धारा 376, 511 और 506 के तहत 10 साल की सजा सुनाई है. आपको बता दें, CBI कोर्ट ने दो केस में 10-10 साल की सजा सुनाई है, जो कि अलग-अलग पूरी करनी होंगी. इसके अलावा कोर्ट ने 30 लाख रुपए जुर्माना लगाया है, जिसमें से 14-14 लाख रुपए पीड़ितों को मुआवजा दिया जाएगा. सजा पर बहस पूरी होने के बाद राम रहीम कोर्ट में रो

फरीदाबाद डेरा प्रमुख पर आने वाले फैसले को देखते हुए हिंसा फैलने की आशंका के चलते हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम लिमिटेड ( एचवीपीएनएल ) ने सभी पावर हाउसों की सुरक्षा कड़ी कर दी है। एचवीपीएनएल के सुपरिटेंडेंट इंजीनियर गुलशन नागपाल ने कहा कि सभी पार हाउस पर सुरक्षा कर्मियों के साथ ड्यूटी मजिस्ट्रेट लगाए गए है। साथ विभाग के अधिकारी की भी सुरक्षा व्यवस्था पर नजर बनी हुई है। सभी पावर हाउस की राउंड द क्लॉक चेकिंग की जा रही है। बता दें कि इंडस्ट्रियल सिटी में 28 पावर हाउस है। जिनसे बिजली संचालित होती है। औद्योगिक सिटी में ये पावर हाउस खास

रोहतक पंचकूला में हुई आगजनी से सबक लेते हुए रोहतक में पुलिस और सुरक्षा बलों को मौके पर ही तुरंत एक्शन लेने की छूट रहेगी। मोर्चा संभाले जवानों को संदिग्ध गतिविधि पर असामाजिक तत्वों को गोली मारने के निर्देश दिए गए हैं। सुबह से ही पूरा रोहतक और सिरसा सेना की निगरानी में रहेगा। पूरे जेल परिसर की सुरक्षा कड़ी करते हुए रोहतक में अर्धसैनिक बलों की 23 कंपनियां तैनात की गई हैं। सेना स्टैंड बाई पर रहेगी, जबकि पूरे जोन के अलावा प्रदेश के दूसरे स्थानों से बुलाए गए पुलिस अधिकारी और जवान भी मोर्चा संभाले रहेंगे। आपको बता दें कि

रोहतक डेरा प्रमुख को दोषी करार दिए जाने के बाद सोमवार को सजा सुनाई जाएगी. रोहतक के सुनारिया जेल में बंद डेरा प्रमुख को सजा सुनाने के लिए सीबीआई की विशेष अदालत के जज जगदीप सिंह रोहतक पहुंचेंगे और जेल में ही अदालत लगेगी. यहीं डेरा प्रमुख को सजा सुनाई जाएगी. इस इलाके में सुरक्षा बेहद कड़ी कर दी गई है और यहां हर गाड़ी की तलाशी ली जा रही है. हर आने-जाने वाले से उसकी पहचान पूछी जा रही है. शहर के अदंर और बाहर बड़ी संख्या में सुरक्षाबल तैनात हैं. यहां धारा 144 लगी हुई है. जेल के दोनों तरफ़ 5

सोनीपत सोनीपत के शहजादपुर गांव में एक बुजुर्ग व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस हमले में एक युवक को भी गोली लगी, जिसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया. जानकारी के मुताबिक बाइक पर सवार होकर आए दो अज्ञात हमलावरों ने फायरिंग शुरु कर दी, गोली लगने से बुजुर्ग की मौके पर ही मौत हो गई है. वहीं घायल युवक का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है.

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर फैसला आने के बाद हरियाणा व पंजाब पूरी तरह से दहल गया था। दोनों राज्यों में मोबाइल डाटा बेस्ड इंटरनेट सेवाएं व परिवहन सेवाएं बंद कर दी गई थी। अब धीरे-धीरे आम जनजीवन पटरी पर लौटने लगा है। हरियाणा व पंजाब के कई हिस्सों में आज से बस सेवा बहाल कर दी गई है। देर सायं तक कई शहरों में इंटरनेट सेवा भी बहाल की जा सकती है। प्रशासन ने रविवार सुबह डेरा सच्चा सौदा मुख्यालय में और आसपास लगे कर्फ्यू में ढील दी है। हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने कहा कि दिल्ली-कटरा रेल सेवाओं

सिरसा सिरसा में ढील के बाद फिर से कर्फ्यू लगा दिया है। वहीं, हरियाणा डीजीपी बी एस संधू का कहना है कि डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर फैसले के बाद उनके सुरक्षाकर्मी पुलिस अफसरों के साथ अभद्र व्यवहार करने लगे, जिसके तहत उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दोषी ठहराए जाने पर पंचकूला में हुई हिंसा पर पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने पुलिस से फोन कॉल की डिटेल मांगी ताकि यह पता लगाया जा सके कि क्या डेरा प्रमुख की ओर से कोई ऐसा अपने समर्थकों कोई ऐसा संदेश गुप्त रूप से भेजा था जिसमें उन्होंने

डेरा प्रमुख राम रहीम के दोषी करार दिए जाने के बाद समर्थकों द्वारा हिंसात्‍मक हंगामे के बीच हरियाणा के मुख्‍य सचिव डीएस ढेसी ने शनिवार को डेरा मुख्यालय के भीतर सेना के प्रवेश से इंकार करते हुए बताया कि हिंसा में मारे गए सभी लोग डेरा समर्थक हैं और अब तक 524 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मुख्य सचिव ने कहा, कल के ऑपरेशन के दौरान पंचकुला कोर्ट से कुछ दूरी पर डेरा समर्थक की गाडी से एक AK-47 एक माउज़र, दूसरी गाडी से 1 पिस्तौल और पांच राइफल बरामद की गई है।

डेरा प्रमुख पर फैसला आने के बाद डेरा प्रेमियों ने जमकर उत्पात मचाया. हरियाणा और पंजाब में हुई हिंसा में अब तक 31 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 250 से ज्यादा लोग घायल हैं. मृतकों में 29 पंचकूला से और 2 सिरसा से हैं. इस बीच सिरसा में डेरा मुख्यालय में आर्मी घुस गई है. इसी बीच राम रहीम के 6 सुरक्षा गार्ड और 2 डेरा समर्थकों के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया है. इन सभी पर कोर्ट में सुनवाई के दौरान IG को चांटा मारने का आरोप है.