हिमाचल प्रदेश में शनिवार की सुबह एक बस हादसा हुआ है। बस शिमला की तरफ जा रही थी इसी बीच नानखारी के पास खाई में गिर गई। हादसे में 2 लोगों की मौत हो गई है वहीं 10 घायल बताए जा रहे हैं। Himachal Pradesh: 2 dead, 10 injured after a bus, going towards Shimla, fell into a gorge in Nankhari. — ANI (@ANI) October 21, 2017 बता दें कि इससे पहले शुक्रवार को चंबा-पठानकोट नेशनल हाईवे पर 1.09 करोड़ की लागत से रावी नदी पर बना करीब 350 फीट लंबा परेल पुल धराशायी हो गया था। नदी पर बना पुल सड़क की

कोटखाई थाना के तहत बाघी में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है, जहां एक 10 माह की बच्ची की हत्या कर दी गई। बताया जा रहा है कि 2 नेपाली परिवार के आपसी झगड़े ने उक्त 10 माह की बच्ची की जान ले ली। आपसी काहसुनी के चलते हुए इस झगड़े के दौरान बच्ची के बीच में आ जाने के चलते चोट लगने से बच्ची की जान चली गई। डी.एस.पी. ठियोग बलदेव दत्त ने बताया कि वीरवार देर रात कोटखाई के बाघी में 2 नेपाली परिवार जो साथ में ही रहते थे, आपसी मतभेद के चलते इनमें कहासुनी हो गई

हिमाचल प्रदेश के चंबा में दिवाली के मौके पर एक बड़ा हादसा हुआ। हिमाचल के चंबा कस्बे को पंजाब के पठानकोट से जोड़ने वाला ध्‍वस्‍त हो गया। इस हादसे में 6 लोग जख्मी हो गए। घायलों को पंडित जवाहरलाल नेहरु मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। पुल गिरने की एक फोटो सामने आई है, जिसे देखकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे। फोटो में दिखाई दे रहा है कि जब हादसा हुआ, तब एक कार, एक बाइक और एक मिनी ट्रक पुल से गुजर रहा था। पुल जैसे ही ध्‍वस्‍त हुआ, वैसे ही मोटरसाइकिल नदी में गिर गई। उधर कार और

हिमाचल प्रदेश के सीएम और कांग्रेस नेता वीरभद्र सिंह आज एसडीएम आफिस अर्की में अपना नामांकन दाखिल किया. नामांकन के बाद वीरभद्र सिंह अर्की के शाला घाट में जनसभा को संबोधित करेंगे. वीरभद्र सिंह को कांग्रेस ने सोलन जिले की अर्की सीट से टिकट दिया है. वीरभद्र सिंह 2012 में शिमला ग्रामीण से विधायक चुने गये थे. गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख 23 अक्तूबर है. 68 सीटों वाली राज्य की विधानसभा के लिए यहां 9 नवंबर को चुनाव होगा और इसके परिणामों की घोषणा 18 दिसंबर को की जाएगी. आपको बता दें कि कांग्रेस

कांग्रेस ने नौ नवंबर को होने वाले हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए 59 उम्मीदवारों की अपनी पहली सूची जारी की जिसमें मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह और प्रदेश कांग्रेस प्रमुख सुखविंदर सिंह सुक्खू का नाम शामिल है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में इस सूची को अंतिम रूप दिया गया. शिमला(ग्रामीण) सहित बाकी नौ सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा बाद में की जाएगी. वीरभद्र सिंह को राज्य में अर्की सीट से टिकट दिया गया है. हिमाचल प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू को नादौन सीट से टिकट दिया गया है. वीरभद्र

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने आज 68 उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है. पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल सुजानपुर से चुनाव लड़ेंगे. धूमल 23 अक्टूर को सुजानपुर निर्वाचन अधिकारी कार्यालय में अपना नामांकन पत्र भरेंगे.   हिमाचल बीजेपी ने सभी उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की.#HimachalElections #HimachalPradesh @BJP4Himachal @DhumalHP @ianuragthakur @JPNadda pic.twitter.com/JOkNw5ZMfV — MH ONE NEWS (@mhonenews) October 18, 2017 राजनीति में धूमल के शिष्य रहे राजेंद्र राणा ने भी 23 अक्बटूर को नामांकन पत्र भरने की घोषणा की है. हालांकि कांग्रेस पार्टी ने अभी तक अपने पार्टी प्रत्याशियों की सूची जारी नहीं की है, लेकिन सुजानपुर कांग्रेस से

पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश में चुनाव का बिगुल बज चुका है। आगामी 9 नवंबर को राज्य की 68 सीटों के लिए एक साथ चुनाव होगा। मतदान में अभी करीब तीन हफ्ते का समय बचा हुआ है। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स ने साल 2012 में चुने गए ऐसे 47 विधायकों की संपत्ति का जायजा लिया, जो 2007 में भी चुनकर आए थे। रिपोर्ट के मुताबिक साल 2007 में इन विधायकों की औसत संपत्ति 3.59 करोड़ रुपये थी। पांच साल विधायक रहने के बाद साल 2012 में इन नेताओं की औसत संपत्ति 7.63 करोड़ रुपये हो गई। यानि चार साल में माननीयों की

पंचायतों में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण देने वाले हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के इतिहास में महिला विधायकों की भागीदारी ना के बराबर ही है. अब तक केवल 39 महिलाएं ही सदन की दहलीज लांघ पाई. हालांकि, इसके पीछे एक बड़ा कारण यह भी है कि महिलाओं की राजनीति में भागीदारी कम है. राजनीतिक दल टिकट आवंटन में महिलाओं को तवज्जो नहीं देते हैं. बीते विधानसभा चुनाव में भाजपा ने छह और कांग्रेस ने 3 महिलाओं को ही टिकट दिए थे. रसूखदार परिवारों की महिलाएं ही राजनीति में आई और पहचान बना पाई. इसके मुकाबले आरक्षण मिलने के बाद

हिमाचल हाईकोर्ट ने दिवाली पर रात दस बजे के बाद पटाखे चलाने पर रोक लगा दी है. जनहित में आदेश जारी करते हुए कोर्ट ने अस्पतालों के 100 मीटर के दायरे में आतिशबाजी पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया है. प्रदेश सरकार को आदेशों का अनुपालना सुनिश्चित करवाने की जिम्मेवारी सौंपी गई है. न्यायाधीश धर्म चंद चौधरी और न्यायाधीश विवेक सिंह ठाकुर की खंडपीठ ने प्रदेश सरकार को आदेश दिए हैं कि वह दिवाली पर पटाखे चलाने की सूरत में आम नागरिकों के जान व माल की उचित सुरक्षा पर ध्यान दे. कोर्ट ने उम्मीद जताई है कि त्योहार को सभी लोग संयमित होकर

शिमला के कोटखाई के बहुचर्चित गैंगरेप मर्डर केस में चारों आरोपी सेशन कोर्ट से राहत मिली है. कोटखाई के बहुचर्चित गैंगरेप मर्डर केस में 12 जुलाई से हिरासत में चल रहे चारों आरोपियों को सेशन कोर्ट ने जमानत दे दी है. लेकिन बेल बॉन्ड भरने के बाद ही आरोपियों को जेल से रिहा किया जाएगा. बॉन्ड भरने के लिए आरोपियों के एक हफ्ते का वक्त दिया गया है. इससे पहले 13 अक्टूबर को मामले में मुख्य आरोपी माने जा रहे आशीष चौहान को जमानत मिल गई थी. बता दे कि मामल में अब तक सीबी आई इसके खिलाफ कोर्ट में चालान