जम्मू कश्मीर में सेना को बड़ी कामयाबी मिली है. त्राल में जारी सेना और आतंकियों के बीच चल रही मुठभेड़ में हिज्बुल कमांडर सबजार अहमद भट्ट मारा गया. आपको बता दें बुरहान वानी के सफाए के बाद हिजबुल मुजाहिदीन ने सबजार अहमद  को  आतंक का नया चेहरा चुना था. जवानों ने घुसपैठ के इस प्रयास को नाकाम करते हुए चार आतंकियों को मार गिराया. वहीं उनके अन्य साथियों के वहीं कहीं छिपे होने की आशंका के मद्देनजर पूरे इलाके में सघन तलाशी अभियान जारी है. इस बीच, दो और आतंकियों के मारे जाने की खबर सामने आई है. सबजार वही आतंकी है जो बुरहान वानी

बारामूला के रामपुर सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश कर रहे चार आतंकियों को सेना के जवानों ने मार गिराया. सेना का सर्च ऑपरेशन जारी है. कहा जा रहा है कि, जैसे-जैसे बर्फ पिघल रही है पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ की कोशिशें भी तेज हो गई हैं. शुक्रवार को भी सेना ने घुसपैठ की कोशिश कर रहे पाकिस्तान के बॉर्डर एक्शन टीम के तीन जवानों को पकड़ा था. वहीं दूसरी ओर सेना ने बीती रात जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल क्षेत्र में आतंकियों से एनकाउंटर में तीन आतंकी मार गिराए. इसके बाद पुलिस और आर्मी की संयुक्त टीम द्वारा चलाए गए

श्रीनगर भारतीय सेना ने लाइन ऑफ कंट्रोल के नजदीक पाकिस्तान की बॉर्डर ऐक्शन टीम (BAT) के दो सैनिकों को मार गिराया है. जानकारी के मुताबिक, ये दोनों घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे और भारतीय जवानों पर हमले की कोशिश भी की. सेना ने इन दोनों को उड़ी सेक्टर में ढेर किया. बता दें कि पाकिस्तान की बैट घात लगाकर हमला करने और भारतीय जवानों के शव क्षत-विक्षत करने के लिए कुख्यात रही है. ये आतंकवादियों के साथ मिलकर घुसपैठ की कोशिशों को बढ़ावा देते हैं. रक्षा विशेषज्ञ भारत के इस कदम को बेहद अहम मान रहे हैं. एक्सपर्ट्स का कहना है कि

पुलवामा कश्मीर में लश्कर ए तैयबा का कमांडर अबू दुजाना और उसके दो साथियों की तलाशी के लिए सेना ने पुलवामा जिले में सर्च ऑपरेशन ​शुरू कर दिया है. लेकिन सेना को पांचवी बार चकमा देने में वो कामयाब रहा है. कश्मीर में लश्कर का चीफ होने के कारण युवाओं को बरगलाकर वह आतंकी संगठन में शामिल कराता है, इसलिए सुरक्षाबलों को उसकी तलाश है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सेना ने उसकी तलाश में सर्च ऑपरेशन मंगलवार रात से ही शुरू कर दिया था, जिसमें दुजाना और उसके साथी घिर गए थे, लेकिन अंधेरे का फायदा उठाकर वे सेना के हाथ से भाग

भारतीय सेना ने कश्मीर में पाक घुसपैठियों के खिलाफ बेहद कड़ी कार्रवाई करते हुए नौशेरा इलाके में पाक पोस्ट को तबाह कर डाला है, साथ ही सेना ने पाक बंकरों की तबाही का एक विडियो भी बनाया है. भारतीय सेना के मेजर जनरल अशोक नरूला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि आतंकियों की घुसपैठ को रोकने के लिए सीमा पर बेहद कड़ी कार्रवाई की गई है. नरूला ने कहा, पाकिस्तानी सेना अपनी चौकियों और बंकरों की मदद से आतंकियों की मदद करता रहा है. भारत ने नौशेरा में जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान के पोस्ट को नष्ट कर दिया है. उन्होंने कहा

जम्मू-कश्मीर में महबूबा मुफ्ती सरकार ने पुलिस विभाग में भारी फेरबदल किया है. राज्य सरकार ने पुलिस विभाग के 99 अफसरों के ट्रांसफर का आदेश दिया है. 99 डिप्टी सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस का ट्रांसफर किया गया है. दरअसल घाटी में पिछले कई महीनों से पुलिस और आम जनता के बीच संघर्ष जारी है. सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद हालात पर पूरी तरह से काबू नहीं पाया जा सका है, शायद इसी कड़ी में महबूबा सरकार ने पुलिस अधिकारियों के तबादले करके हालात को सामान्य करने का प्रयास किया है. घाटी में शांति बहाली को लेकर राज्य सरकार के साथ-साथ केंद्र सरकार

दिल्ली सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने उस अधिकारी को प्रशंसा पत्र दिया है जिन्होंने एक कश्मीरी युवक को अपनी जीप से बांधकर पत्थरबाजों को करारा जवाब दिया था. सेना प्रमुख की इस कार्यवाही को सैन्य बलों में उत्साह का संचार करने की दिशा में उठाया गया एक सार्थक कदम माना जा रहा है. बीती 9 अप्रैल को यह घटना सामने आई थी, इसमें बड़गाम में एक मेजर ने अपनी जीप के बोनट से कश्मीरी युवक को बांध दिया था. उस समय श्रीनगर संसदीय सीट के लिए उप चुनाव चल रहे थे. बता दें कि मतदान का बहिष्कार करने के लिए स्थानीय लोग

श्रीनगर जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक कॉन्स्टेबल शनिवार को चार रायफल लेकर फरार हो गया था. इस घटना के एक दिन बाद आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन ने दावा किया है कि पुलिस कॉन्स्टेबल उनके संगठन के साथ जुड़ गया है. रविवार को हिजबुल मुजाहिद्दीन के प्रवक्ता बुरहानुद्दी ने हथियार लेकर भागने वाले पुलिस वाले को बधाई देते हुए श्रीनगर में एक स्थानीय न्यूज एजेंसी को बताया, “हम सय्यद नवीद (मुश्ताक) शाह का अपने संगठन में स्वागत करते हैं.” बुरहानुद्दी ने कहा कि “हिजबुल मुजाहिद्दीन कॉन्स्टेबल की बहादुरी को सलाम करता है. नवीद जैसे लोग हमारे संघर्ष में शामिल होते रहेंगे.” शनिवार शाम को नवीद शाह

उत्तरी कश्मीर में एलओसी के साथ सटे कुपवाड़ा के नौगाम सेक्टर में आतंकियों के खिलाफ सेना का सर्च ऑपरेशन जारी है। यहां भारतीय सेना ने चार आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया, लेकिन आतंकियों से लोहा लेते हुए सेना के तीन जवान भी शहीद हो गए। जवानों ने आतंकियों के पास से हथियार भी बरामद किए हैं। शनिवार को हथियारों से लैस सात आतंकियों ने घुसपैठ का प्रयास किया था, लेकिन सेना ने उसे नाकाम कर दिया और आतंकियों को घेर लिया और सर्च ऑपरेशन चलाया गया। सर्च ऑपरेशन के दौरान एक पिट्ठू बैग और अन्य सामान मिलने के बाद पूरे

एक न्यूज चैनल के स्टिंग ऑपरेशन में अलगाववादी नेता नईम खान और फारूक अहमद डार के पाक से पैसे मिलने की बात कबूलने के बाद राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने शनिवार को हुर्रियत कांफ्रेंस के कट्टरपंथी नेता सैयद अली शाह गिलानी सहित तीन अन्य नेताओं से पूछताछ की. सूत्रों के मुताबिक, पूछताछ में इन सभी ने माना है कि कश्मीर में पाकिस्तान फंडिंग करता है साथ ही हुर्रियत को भी मदद मिलती है. अतिरिक्त महानिदेशक के नेतृत्व वाली एनआईए की टीम ने नईम खान, फारूक अहमद डार उर्फ बिट्टा कराटे और गाजी जावेद बाबा को अपने समक्ष पेश होकर टीवी चैनल