श्रीनगर कश्मीर में कड़ाके की ठंड पड़ रही है. चिनारों पर बर्फ गिर रही है और बाशिंदे श्रीनगर की सडक़ों पर अपने फिरन के नीचे कांगड़ी की गर्माहट से हड़कंप देने वाली ठंड से राहत ढूंढ रहे हैं. ये मौसम कश्मीर में चिल्लई कलां का है. चिल्लई कलां के चलते घाटी में अगले 40 रोज तक सर्दी जमकर पड़ेगी. चिल्लई कलां के पहले ही दिन चिनार, देवदार के वृक्षों से सजी घाटी में इस मौसम में पहली बार सर्दी का पैमाना श्रीनगर सहित कई इलाकों में नई मिसाल तक नीचे चला गया. श्रीनगर में दिसंबर महीने की बीती रात पिछले छह साल

श्रीनगर श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर सुरक्षाबलों पर बढ़ते आतंकी हमलों पर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कड़ा नोटिस लिया है. सभी सुरक्षा एजेंसियों को महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों व हाईवे की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा कर उसे चाक-चौबंद बनाने और स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिज्योर (एसओपी) का सख्ती से पालन करने का निर्देश दिया है. वहीं कश्मीर में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने जल्द ही केंद्रीय गृह मंत्रालय का एक दल भेजा जा रहा है. इसी बीच, राज्य पुलिस ने हाईवे पर संवेदनशील इलाकों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने और सुरक्षाबलों की अतिरिक्त तैनाती करने का फैसला लिया है. राज्य पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पंपोर में

जम्मू जम्मू-कश्मीर पंचायती राज संशोधन बिल को मंजूरी दे दी है. राज्य सरकार के नियमों पर चुनाव करवाने के बिल को मंजूरी मिलने पर संविधान के 73वें संशोधन को लागू करने की उम्मीद खत्म हो गई है. अब राज्य में मार्च 2017 में पंचायती चुनाव मुख्य निर्वाचन अधिकारी की देखरेख में होंगे. संविधान के 73वें संशोधन के तहत अन्य राज्यों में पंचायत चुनाव अलग से गठित चुनाव आयोग की देखरेख में होते हैं. चुनाव आयोग के साथ पंचायतों को स्वायत्त बनाने के लिए वित्त आयोग भी अलग होता है. राज्य में हजारों पंच-सरपंच जोरशोर से यह मुद्दा उठा रहे हैं कि पंचायतों को

श्रीनगर कश्मीर में ठंड का कहर जारी है. पारा लगातार गिरता जा रहा है. पारा शून्य से काफी नीचे तक पहुंच चुका है. लोग सूरज देखने को तरस गए हैं. जिंदगी अलाव के सहारे कट रही है. रविवार रात को पारे में भारी गिरावट दर्ज की गई. रविवार रात को लेह में तापमान सबसे कम दर्ज किया गया. यहां पारा गिरकर 13.8 डिग्री तक पहुंच गया. वहीं श्रीनगर में तापमान 4.2 डिग्री दर्ज किया गया. पहलगाम का तापमान 5.3 डिग्री और गुलमर्ग का तापमान 3.5 डिग्री दर्ज किया गया. मौसम विभाग ने कहा कि अगले दो दिनों तक मौसम का यही हाल रहने

जम्मू जम्मू विकास प्राधिकरण (जेडीए) जल्द ही जम्मूवासियों को आधुनिक सुविधाओं वाले घर देने जा रहा है. इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी गई हैं. इसमें अभी थोड़ा वक्त लगेगा पर जेडीए ने फ्लैट की योजना बना ली है. जेडीए का कहना है कि उसके पास फिलहाल जमीन नहीं है लेकिन जैसे ही राजस्व विभाग जमीन की निशानदेही करता है तो विभाग वैसे ही लोगों के लिए फ्लैट बनाने की योजना पर काम करेगा. जेडीए ने अभी तक लोगों को रूप नगर, कोट भलवाल, बीरपुर और गोल गुजराल में प्लाट अलाटमेंट कर दिए हैं.

जम्मू राजभवन में रविवार सुबह तड़के लगी आग से दहशत फैल गई. सूचना मिलने के बाद दमकल वाहन मौके पर पहुंचे और आग पर काबू पाया गया. आग राज्यपाल के प्रधान सचिव कार्यालय में लगी थी. इसमें कंप्यूटर सहित अन्य जरूरी सामान जल गया. दमकल विभाग से मिली जानकारी के अनुसार सुबह 5:45 बजे विभाग को आग के बारे सूचित किया गया. आग लगने का कारण शार्ट सर्किट बताया गया है. राजभवन में काम करने वाले कुछ लोगों ने प्रधान सचिव के कार्यालय से धुआं उठते देखा. इसके बाद उच्च अधिकारियों को सूचित किया गया. साथ ही दमकल विभाग को भी सूचना दी.

श्रीनगर मध्य कश्मीर के बडगाम जिले का एक गांव राज्य का कैशलेस पहला गांव बनेगा. एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि राज्य की गर्मियों की राजधानी से करीब 30 किलोमीटर दूर लनूरा गांव जम्मू कश्मीर का पहला कैशलेस गांव बनेगा. उन्होंने कहा कि गांव के हर घर के कम से कम एक सदस्य को इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट सिस्टम (ईपीएस) का इस्तेमाल करने का प्रशिक्षण दिया गया है. अब तब, लनूरा में 150 व्यक्तियों को ईपीएस का इस्तेमाल करने का प्रशिक्षण दिया जा चुका है. यह गांव जिले के खानसाहब खंड के बुग्रू-बी पंचायत में आता है.

श्रीनगर पुराने शहर के बाबडेम इलाके में शनिवार को संदिग्धों की हलचल देखे जाने के बाद देर रात तक सर्च आपरेशन चलाया गया. इधर बीच लगातार आतंकियों की मौजूदगी और शहर में किसी बड़े आतंकी वारदात को अंजाम देने के खुफिया इनपुट्स मिलते रहे हैं. लाल चौक से मात्र चार किलोमीटर की दूरी पर बाबडेम इलाके में 2-3 आतंकियों की मौजूदगी और उनकी गतिविधियों की सूचना सुरक्षा बलों को मिली. इसके बाद पूरे इलाके की घेराबंदी कर सर्च आपरेशन चलाया गया. हर आने जाने वालों की तलाशी ली गई. इसके साथ ही घर-घर भी तलाशी अभियान चलाया गया. हालांकि, कोई संदिग्ध हत्थे

श्रीनगर आतंकवादियों ने श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर श्रीनगर के निकट पंपोर में आज दोपहर को सेना के काफिले पर हमला कर दिया. उस हमले में 3 जवान शहीद हो गए हैं. 2 अन्‍य जवानों के घायल होने की खबर है. एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक आज दोपहर में पुलवामा जिले के पंपोर इलाके के कादलाबल में आतंकियों ने सेना के काफिले पर गोलीबारी शुरू कर दी. एक सैन्य अधिकारी ने बताया कि गोलीबारी के दौरान राजमार्ग पर काफी लोग होने के कारण सेना जवाबी कार्यवाही नहीं कर सकी. इस मौके फायदा उठाकर आतंकी भागने में सफल हो गए. उन्होंने बताया कि पूरे

जम्मू आतंकवाद से निपटने में महारत रखने वाले आइजी अभयवीर सिंह चौहान ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल जम्मू सेक्टर के आइजी का महत्वपूर्ण पद्भार संभाल लिया है. ग्रुप सेंटर बनतालाब में बृहस्पतिवार को आयोजित कार्यक्रम में आइजी कुलदीप धर ने आइजी चौहान को नई जिम्मेदारी सौंप दी. आइजी धर नई जिम्मेदारी संभालने के लिए केरिपुब मुख्यालय दिल्ली रवाना हो रहे हैं. धर मई 2013 से जम्मू सेक्टर के आइजी रहे. आतंकवाद से निपटने में वह खासा अनुभव रखते हैं. कई साल तक स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप में रह चुके चौहान ने कश्मीर के अलावा नक्सल प्रभावित पूर्व राज्यों में भी काम किया है. उन्हें