जम्मू-कश्मीर जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की तरफ से एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन किया गया है. मंगलवार रात आरएसपुरा सेक्टर और अरनिया में ये फायरिंग हुई है. इस फायरिंग को 20 घंटे से ज्यादा का समय हो गया है. BSF ने भी पाकिस्तानी रेंजर्स की 5-6 चौकी को पूरी तरह बर्बाद कर दिया है. BSF के सूत्रों के अनुसार, 3 पाकिस्तान जवान भी मारे गए है. पाकिस्तान के सिविल एरिया और कई पोस्ट्स पर भारी नुकसान होने की खबर है. सीमापार से लगातार मोर्टार दागे जा रहे हैं. छोटे हथियारों के अलावा 82 एमएम और 120 एमएम के मोर्टार गोलों का इस्तेमाल किया

दिल्ली/श्रीनगर जम्मू कश्मीर में जुलाई में हिजबुल मुजाहिदीन कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद से राज्य में चल रहे गतिरोध को खत्म करने का प्रयास जारी है. इसी के तहत बीजेपी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा के नेतृत्व में नागरिक समाज के पांच सदस्यीय शिष्टमंडल ने मंगलवार को कट्टरपंथी हुर्रियत नेता सैयद अली शाह गिलानी से श्रीनगर में मुलाकात की. इस बीच शिष्टमंडल के मुलाकात से दूरी बनाते हुए बीजेपी ने कहा कि पार्टी का इससे कुछ लेनादेना नहीं है. इससे पहले सिन्हा के नेतृत्व में शिष्टमंडल ने हैदरपोरा इलाका स्थित गिलानी के आवास पर उनसे मुलाकात की. गिलानी के साथ

दिल्ली जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में हुए आतंकी हमले के पाकिस्तानी कनेक्शन हाथ होने का पुख्ता सबूत सामने आ गया है. पाकिस्तान के गुंजरावाला शहर में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने कई पोस्टर लगाए हैं, जिसमें कहा गया है कि वह उन चार में से एक आतंकी का अंतिम संस्कार करेगा, जो भारतीय सेना की 12वीं ब्रिगेड पर हमले में शामिल था, जिसमें 20 जवान शहीद हुए थे. ये पोस्टर भारत के उन आरोपों के पुख्ता सबूत हैं, जिसमें कहा गया था कि पाकिस्तान आधारित आतंकी संगठनों ने इस हमले को अंजाम दिया है. हालांकि पाकिस्तान सरकार अब तक इससे इनकार करती रही

जे एंड के कठुआ में आतंकी साजिश को नाकाम करने वाले बीएसएफ के जवान गुरनाम सिंह शहीद हो गए है, गुरनाम सिंह का जम्मू के अस्पताल में इलाज चल रहा था, उन्होंने शनिवार देर रात अस्पताल में इलाज के दौरान आखिरी सांस ली. गुरनाम सिंह कठुआ में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान घायल हुए थे, उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था, गुरनाम सिंह ने बहादुरी का परिचय देते हुए, फायरिंग की आड़ में आतंकियों की घुसपैठ की कोशिश को नाकाम किया था. 21 साल के गुरनाम सिंह जम्मू के अर्निया के रहने वाले थे. गुरनाम की वजह से ही

जे एंड के भारतीय सुरक्षा बल सीमा पर सतर्क हैं, वह पाकिस्तान की हर नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं इसी दिशा में आज सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है, पुलिस ने आज जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले से एक पाकिस्तानी जासूस को गिरफ्तार किया है. वहीं, जम्मू-कश्मीर में सेना और एसओजी ने आज ही बारामूला से आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के 2 आतंकियों को गिरफ्तार किया है, पकड़े गए जासूस का नाम बोधराज है, बोधराज, चांदणा का रहने वाले है, फिलहाल यह पाकिस्तानी जासूस सांबा पुलिस की गिरफ्त में और उससे पूछताछ चल रही है. पुलिस को शक है कि

जम्मू-कश्मीर मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि शांति स्थापित होने पर अफ्सपा (AFSPA) हटाए जाएंगे. मुफ्ती ने कहा कि हमारे पास लिखित समझौते हैं कि एक बार स्थिति शांतिपूर्ण हो जाए तो हम क्रूर कानून को हटा देंगे. महबूबा मुफ्ती ने यह भी कहा कि जो युवा गुम हो चुके हैं और चरमपंथी संगठन ज्वाइन करना चाहते हैं उन्हें पुलिस को वापस लाना चाहिए. मुफ्ती ने कहा कि एनकाउंटर में मार देने के बजाय उन्हें वापस लेकर आना चाहिए. उन्होंने युवाओं से अपील करते हुए कहा कि वे वापस आएं. कश्मीर में बीते काफी वक्त से तनाव का माहौल है और कई

श्रीनगर पाकिस्तान की ओर से शुक्रवार को फिर इंटरनेशनल बॉर्डर पर सीजफायर का उल्लघंन किया गया. पाकिस्तान की तरफ से हीरानगर, सांबा और अखनूर में फायरिंग की गई. भारतीय सेना ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया. तीन अलग-अलग जगहों पर हुई इस फायरिंग में पाकिस्तान के तीन रेंजर्स मारे गए जबकि 5 घायल हुए हैं. हालांकि इसमें बीएसएफ का एक जवान गुरुनाम सिंह भी घायल हुआ है. सीमा पार से पिछले दो दिनों में पाकिस्तान की तरफ से कई बार फायरिंग की गई है. पाक रेंजर्स आतंकी घुसपैठ के लिए इस तरह की फायरिंग कर रहे हैं. खुफिया विभाग ने गुरुवार को इंटरनेशनल बॉर्डर

श्रीनगर कश्मीर में संभवत: पहली बार सुरक्षा बलों ने बारामूला में आतंकियों के संदिग्ध ठिकानों पर छापामारी के दौरान चीन के झंडे और आपत्तिजनक सामग्री बरामद किए हैं और ‘आतंक से जुड़ी गतिविधियों’ में कथित तौर पर लिप्त रहने के लिए 44 लोगों को गिरफ्तार किया है. सेना के एक प्रवक्ता ने मंगलवार को कहा, ‘बारामूला के पुराने कस्बे में व्यापक अभियान के दौरान 17 अक्तूबर को 12 घंटों में 700 से अधिक मकानों की तलाशी ली गई और इस दौरान आतंक से जुड़ी गतिविधियों में कथित तौर पर लिप्त रहने के लिए 44 लोगों को पकड़ा गया है.’ उन्होंने बताया कि इस

जे एंड के आतंकियों ने दक्षिण कश्मीर के जिला अनंतनाग में एक पुलिस चौकी पर हमला कर वहां तैनात पांच पुलिसकर्मियों के हथियार लूट लिए, लापरवाही बरतने और आतंकियों के आगे हथिययार डालने वाले पांचों पुलिसकर्मियों को हिरासत में ले लिया गया है. इसके साथ ही सीआरपीएफ व पुलिस के एक संयुक्त दस्ते ने आतंकियों को पकडने के लिए पूरे इलाके में तलाशी अभियान छेड दिया है, बीते दस दिनों में दक्षिण कश्मीर में पुलिसकर्मियों से हथियार लूटे जाने की यह दूसरी घटना है, इससे पूर्व आतंकियो ने 8 अक्तूबर को पुलवामा जिले के तुमलहाल गांव में दो पुलिसकर्मियों से उनकी सरकारी

जे एंड के पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है, पाकिस्तान की और से एक बार फिर एलओसी पर संघर्षविराम का उल्लंघन किया गया, पाक सैनिकों ने जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में एलओसी पर दो बार संघर्षविराम का उल्लंघन कर फायरिंग की. जिसमें भारत का एक जवान शहीद हो गया, वहीं भारतीय जवानों ने फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब दिया और पाक सैनिकों को खदेड़ने में कामयाब रहें, पाकिस्तान की और से संघर्षविराम उल्लंघन ऐसे दिन हुआ है जब भारत, रूसी राष्ट्रपति व्लादमीर पुतिन और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग सहित ब्रिक्स और बिम्सटेक शिखर सम्मेलनों के लिए कई देशों