डेरा प्रमुख पर फैसले के बाद हरियाणा में हालात सामान्य हैं। सिरसा में आज 12 घंटे के लिए कर्फ्यू में ढील दी गई है, सिर्फ तीन इलाकों नाजिया खेड़ा, डेबू रोड और बाजेकां में कर्फ्यू जारी है। आज शहर में दफ्तर और शिक्षण संस्थान भी खुले हैं। सिरसा में सुरक्षा को लेकर सेना ने फ्लैग मार्च निकाला। सेना के अधिकारियों ने कहा कि शहर में हालात सामान्य बने हुए हैं, साथ ही उन्होंने कहा कि बिना प्रशासन की अनुमति के सेना डेरे के अंदर नहीं जाएगी।

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दस साल की सजा सुनाने वाले रीयल हीरो सीबीआइ के जज जगदीप सिंह हवाई मार्ग के जरिये सुनारिया जेल पहुंचे और अपना अभूतपूर्व फैसला सुनाने के बाद कड़ी सुरक्षा में हवाई मार्ग के जरिये ही वापस आ गए। पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट के निर्देश पर सीबीआई जज को कड़ी सुरक्षा में रखा गया था। भविष्य में किसी भी तरह की अनहोनी को टालने के लिए न्यायाधीश को जेड प्लस सिक्योरिटी देने पर विचार किया जा रहा है। सीबीआइ जज जगदीप सिंह लोहान के सुनारिया जाने से लेकर वापसी तक न केवल कड़े सिक्योरिटी

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को रोहतक के जेल में 15 साल पुराने मामले में सज़ा सुनाई गई, लेकिन राजनीतिक रूप से प्रभावशाली गुरमीत राम रहीम को इस मामले में दोषी ठहराया जाना इतना आसान नहीं था. जान जोख़िम में डालकर अपने साथ हुए अन्याय की लड़ाई लड़ने वाली दो साध्वियों से लेकर सीबीआई के जांच अधिकारियों तक ने इस मामले में बेहद बड़ा ख़तरा मोल लिया है. जानिए, कौन थे ये लोग जिनकी वजह से दोषी ठहराए गए गुरमीत राम रहीम. 1 - वो दो साध्वियां जिन्होंने अपनी परवाह नहीं की इस मामले में दो साध्वियों ने अपनी जान की

रेप केस में दोषी डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के लिए सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने सजा का ऐलान कर दिया है. उनको 20 साल की सजा सुनाई गई है. कोर्ट ने धारा 376, 511 और 506 के तहत 10 साल की सजा सुनाई है. आपको बता दें, CBI कोर्ट ने दो केस में 10-10 साल की सजा सुनाई है, जो कि अलग-अलग पूरी करनी होंगी. इसके अलावा कोर्ट ने 30 लाख रुपए जुर्माना लगाया है, जिसमें से 14-14 लाख रुपए पीड़ितों को मुआवजा दिया जाएगा. सजा पर बहस पूरी होने के बाद राम रहीम कोर्ट में रो

डेरा प्रमुख सजा के एलान से पहले हरियाणा के साथ पंजाब भी हाई अलर्ट पर है। फैसला आने से पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सभी हाई-लेवल अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने इस दौरान पंजाब में सुरक्षा व्यवस्था की डीटेल रिपोर्ट ली। उधर,  एतिहातन पंजाब और हरियाणा में मोबाइल इंटरनेट सेवा को बंद रखने का फैसला किया गया है। यह रोक मंगलवार सुबह 11.30 बजे तक जारी रहेगी।

रोहतक डेरा प्रमुख को दोषी करार दिए जाने के बाद सोमवार को सजा सुनाई जाएगी. रोहतक के सुनारिया जेल में बंद डेरा प्रमुख को सजा सुनाने के लिए सीबीआई की विशेष अदालत के जज जगदीप सिंह रोहतक पहुंचेंगे और जेल में ही अदालत लगेगी. यहीं डेरा प्रमुख को सजा सुनाई जाएगी. इस इलाके में सुरक्षा बेहद कड़ी कर दी गई है और यहां हर गाड़ी की तलाशी ली जा रही है. हर आने-जाने वाले से उसकी पहचान पूछी जा रही है. शहर के अदंर और बाहर बड़ी संख्या में सुरक्षाबल तैनात हैं. यहां धारा 144 लगी हुई है. जेल के दोनों तरफ़ 5

चंडीगढ़ मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंचकूला में हुई हिंसा के लिए सीधे रूप से हरियाणा सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। उनका कहना है कि सबसे बड़ी चूक 1.5 लाख लोगों को एक जगह इकट्ठा होने देना था। कैप्टन ने भले ही हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को जिम्मेदार माना, लेकिन पार्टी लाइन से इतर हो खïट्टर के इस्तीफे पर चुप्पी साध ली। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा इतनी बड़ी भीड़ को कंट्रोल करना अपने आप में बहुत बड़ी चुनौती होती है। वहीं, हरियाणा सरकार ने आरोप लगाया है कि डेरा प्रेमी पंजाब के रास्तों से होते हुए पंचकूला पहुंचे, पंजाब सरकार

सिरसा सिरसा में ढील के बाद फिर से कर्फ्यू लगा दिया है। वहीं, हरियाणा डीजीपी बी एस संधू का कहना है कि डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर फैसले के बाद उनके सुरक्षाकर्मी पुलिस अफसरों के साथ अभद्र व्यवहार करने लगे, जिसके तहत उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दोषी ठहराए जाने पर पंचकूला में हुई हिंसा पर पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने पुलिस से फोन कॉल की डिटेल मांगी ताकि यह पता लगाया जा सके कि क्या डेरा प्रमुख की ओर से कोई ऐसा अपने समर्थकों कोई ऐसा संदेश गुप्त रूप से भेजा था जिसमें उन्होंने

पुलवामा में सुबह से सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच  मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए हैं । इस दौरान शहीद होने वाले सुरक्षाकर्मियों की संख्या आठ हो गई है। दक्षिण कश्मीर में जिला पुलिस लाईन पुलवामा मेें शनिवार तडके घुसने में कामयाब रहे आत्मघाती आतंकियों के हमले में पांच सुरक्षाकर्मी गंभीर रुप से जख्मी हो गए। सुरक्षाबलों का आतंकियों के खिलाफ अभी ऑपरेशन जारी है। शहीद होने वाले जवानों में चार पुलिस कर्मी और इतने ही सीआरपीएफ के जवान थे। दक्षिण कश्मीर में जिला पुलिस लाइन पुलवामा में शनिवार तडक़े घुसने में कामयाब रहे आत्मघाती आतंकियों के हमले में पांच सुरक्षाकर्मी

जेल में पहली रात गुरमीत राम रहीम को नींद नहीं आई। उन्होंने खाना भी नहीं गया। वे पूरी रात टहलते रहे और रात दो बजे के करीब दूध पिया। सुबह नाश्ते में चाय और ब्रेड लिया। बता दें कि राम रहीम को रोहतक की सुनारिया जेल अप्रूवल सेल में रखा गया है। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को यौन शोषण मामले में पंचकूला स्थित सीबीआई कोर्ट ने शुक्रवार को दोषी करार दिया। उसके बाद हरियाणा पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया और सेना की सुरक्षा में पहले वेस्टर्न कमांड ले जाया गया। वहां उनका मेडिकल चेकअप कराया