इराक में लापता 39  भारतीयों के परिवारों ने केंद्र सरकार पर गुमराह करने का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि संसद में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के बयान को सुनने के बाद इराक में लापता हुए लोगों के बारे में कोई सुराग मिलने की उनकी उम्मीदें अब टूट गयी हैं। परिजनों का कहना है कि सरकार ने पिछले तीन साल से हमे अंधेरे में रखा। विदेश मंत्री के बयान के बाद साफ हो गया है कि सरकार के पास लापता हुए लोगों के बारे में कोई ठोस सूचना नहीं है।

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=lqqVy4dot9g&t=573s[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=ZNqT02Eyjv4[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=hGyXVnkuhDY[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=tDeuLBVBywA[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=qu3bitBT9Qk[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=gvG1SPSI8x4[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=FRoblRyCZhQ[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=wyolbHXuPTE[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=x9Elmze7Kqk[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=jjYhsRumVyg[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=HEEZNq1GMh4[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=s-I6-57yqSU[/embed] [embed]https://www.youtube.com/watch?v=YrsGgTOyRTc[/embed]

हरियाणा बीजेपी की जींद में दो दिवसीय कार्यसमिति की बैठक शुरु हो गई है। बैठक में सीएम मनोहर लाल भी शामिल हुए हैं। इस दौरान पार्टी संगठन और सरकार के बीच और बेहतर सामंजस्य कैसे बनाया जाए, इसको लेकर विस्तार से मंत्रियों और संगठन पदाधिकारियों के बीच चर्चा होगी। संगठन पदाधिकारियों के सामने पिछले दिनों उनके मंत्रालय की ओर से लिए फैसलों को लेकर बातचीत होगी। इसके साथ बीजेपी राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह के दौरे को लेकर भी चर्चा होगी। प्रदेश सरकार की एक हजार दिन के कार्यकाल में लिए गए जनकल्याणकारी फैसलों का जनता में कैसे प्रचार-प्रसार किया जाए। इस पर

हिमाचल प्रदेश के मनाली में बादल फट गया है। जानकारी के मुताबिक रोहतांग टल के पास ये बादल फटा है जिसकी वजह से पूरी की पूरी सड़क बह गई है। मौके पर राहत बचाव दल पहुंच चुका है और मौके का जायजा ले रहा है। स्थानीय प्रशासन भी मौके पर मौजूद है।

पंजाब कैबिनेट सब कमेटी की आज चंडीगढ़ में बैठक होगी। बैठक की अध्यक्षता वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल करेंगे। इस दौरान किसानों के कर्ज माफी को लेकर चर्चा होगी। सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आढ़तियों के कर्ज पर विचार करने के लिए कैबिनेट सब कमेटी का गठन किया था। सब-कमेटी को लेकर किसान नेताओं का कहना है कि कमेटी बनाने से इस मामले का समाधान नहीं होने वाला है।

फरीदाबाद में चार साल के मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है. पीड़ित बच्ची की मां ने पुलिस को शिकायत दी है कि उसके पड़ोस में रहनेवाले एक युवक ने चार साल की इस मासूम के साथ दुष्कर्म किया है, वहीं पीड़ित बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.महिला थाने की एसएचओ सुशीला ने कहा है कि जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की मां राजमाता मोहिंदर कौर का अंतिम संस्कार किया गया. उनको पटियाला के शाही समाधां में मुखाग्नि दी गई. राजमाता मोहिंदर कौर का सोमवार शाम को लंबी बीमारी के बाद 95 साल की उम्र में निधन हो गया था। आपको बता दें कि मार्च में ब्लड प्रेशर और सांस नली में तकलीफ के चलते कोलंबिया एशिया में भर्ती कराया गया था, फिर वहां से उन्हें पीजीआई शिफ्ट किया गया था. कुछ दिन बाद उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया था. सोमवार शाम करीब साढ़े सात बजे उन्होंने पटियाला के मोती महल में आखिरी सांस ली. माता के

प्राइवेट परमिट पॉलिसी को लेकर रोडवेज कर्मचारी आज प्रदेशभर में दो घंटे की सांकेतिक हड़ताल करेंगे और सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर प्राइवेट परमिट पॉलिसी पर विरोध जताएंगे। गोहाना में हरियाणा रोडवेज संयुक्त कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष दलबीर किरमारा ने कहा कि, सरकार बार-बार प्राइवेट परमिट पॉलिसी को लागू कर कर्मचारियों के साथ मजाक कर रही है। आने वाली तेरह अगस्त को मतलोडा में परिवहन मंत्री के आवास का घेराव किया जाएगा।

रेवाड़ी के गोठड़ा टप्पा डहीना में सरकारी स्कूल की छात्राओं ने स्कूल गेट पर ताला लगाकर प्रदर्शन किया। छात्राएं स्कूल के गेट पर ताला लगाकर धरने पर बैठ गई। छात्राएं स्कूल में टीचर न मिलने से नाराज हैं। दो महीने पहले संघर्ष के बाद छात्राओं ने स्कूल अपग्रेड कराया था। अपग्रेड करते वक्त सीएम मनोहर लाल की सरकार ने स्कूल को 22 टीचर देने का आश्वासन दिया था, लेकिन इस दौरान दो महीने में आठ में से स्कूल में महज चार ही टीचर रह गए हैं, जिसकी वजह से छात्राओं ने आज फिर धरना किया। धरने के कुछ देर बाद

हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस के छह विधायकों ने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के खिलाफ हाईकमान को पत्र लिखा है।इस पत्र में सीएम वीरभद्र सिंह को सीएम पद से हटाने की मांग की गई है। इस पत्र की एक कॉपी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंदर सुक्खू को भी भेजी गई है। सूत्रों के मुताबिक विधायकों का आरोप है कि कोटखाई मामले को निपटाने में वीरभद्र सरकार असफल रही है। कांग्रेस विधायक कोटखाई मामले में सीएम वीरभद्र के गैर जिम्मेदाराना बयान से नाराज हैं।