श्री फतेहगढ़ साहिब सीआईए पुलिस ने एक ऐसे गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है, जो पुलिस का खौफ दिखाकर दुकानदारों से जबरन वसूली करते थे. आरोपी अभी तक 35 वारदातों को अंजाम देने की बात कबूल चुके हैं, आरोपियों के खिलाफ अलग-अलग थानों में नौ मामले दर्ज हैं. आरोपियों के पास से पुलिस की वर्दी बरामद हुई है, जिस पर एएसआई सतनाम सिंह की नेम प्लेट भी लगी है.  पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है

लुधियाना के शास्त्री नगर में एक आठ साल के मासूम बच्चे की मौत पर सवाल उठने लगे हैं. मृतक बच्चे का नाम बिंदू बताया जा रहा है जो सरकार स्कूल में पहली क्लास में पढ़ता था. परिजनों का आरोप है कि स्कूल के टीचर ने बिंदू के डंडों के साथ बेरहमी से पिटाई की थी, जिससे बिंदू की मौत हो गई. परिजनों का कहना है कि जब बिंदू स्कूल से घर लौटा तो वो सहमा हुआ था, और सुबह अचानक उसकी तबीयत बिगड़ी जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई. फिलहाल बच्चे के शव

पटियाला के बाहर महमूदपुर में किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी है. अपनी मांगों को लेकर किसान धरने पर बैठे हुए हैं. सोमवार को भी भारी तादाद में किसान प्रदर्शन में शामिल हुए. प्रदर्शन के दौरान किसानों ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उनकी मांगे नहीं मानी गई तो वो बड़ी कुर्बानी से भी पीछे नहीं हटेंगे. इस दौरान किसानों ने सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और कैबिनेट मंत्री मनप्रीत सिंह बादल पर सवाल उठाए. किसानों ने कहा कि चुनाव से पहले कांग्रेस ने जो वायदे किए थे,उन्हें पूरा नहीं किया जा रहा है. दरअसल, पंजाब के किसान हर

बठिंडा के थर्मल प्लांट को बंद कर दिया गया है, जिसका विरोध होने लगा है। कर्मचारी यूनियन ने सरकार पर प्राइवेट कंपनियों को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया है, लेकिन सरकार प्लांट को बंद करने के बाद बचाव में उतर आई है। सरकार का कहना है कि प्लांट से भारी नुकसान उठाना पड़ रहा था।  

किसानों का प्रदर्शन रविवार को लगातार चौथे दिन भी जारी है. किसानों ने अपनी मांगे को लेकर अड़े हुए है. रविवार को किसानों के धरने के दौरान आप नेता किसानों को समर्थन देने के लिए पंडाल में पहुंचे. प्रदर्शन कर रहे  किसानों ने आप नेता को पंडाल से बाहर निकाल दिया. इस दौरान किसानों ने सीएम के बयान की निंदा करते हुए कहा कि किसानों के अच्छे दिन कब आएंगे. कर्ज के बोझ से परेशान आत्महत्या करने वाले किसानों के हालात कब सुधरेंगे.

होशियारपुर पुलिस उस समय बड़ी सफलता मिली जब पुलिस ने एक कार सवार को तीन देसी पिस्तौल और 70 ग्राम हेरोइन समेत गिरफ्तार किया। हालांकि, इस दौरान कार चालक अंधेरे का फायदा उठा कर फरार हो गया। एसएसपी जे. इलनचेलियन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि चैकिंग के दौरान पुलिस टीम ने एक वरना कार को रोकने का इशारा किया। पुलिस को देखते ही कार चालक ने गाड़ी को पीछे मोड़ने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए उसे घेर लिया। इस दौरान कार चालक अंधेरे का फायदा उठाते हुए भाग निकला और

पंजाब में किसानों की खुदकुशी का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला श्री फतेहगढ़ साहिब के भटेड़ी गांव में सामने आया, जहां कर्ज से परेशान जगविंदर सिंह नाम के किसान और उसके खेत में काम करने वाले मजदूर दारा सिंह ने ने जहरीला पदार्थ निगल कर जान दे दी। बताया जा रहा है कि किसान और मजदूर दोनों ही कर्ज से परेशान थे इसलिए उन्होंने ये कदम उठाया। परिवारवालों ने बताया कि जगविंदर सिंह पर बैंक और आढ़तियों का करीब पांच लाख रुपए का कर्ज था, जिससे वो परेशान चल रहा था। उधर, दारा सिंह ने

मोहाली के खरड़ के पास संते माजरा में सड़क हादसे के बाद की दर्दनाक तस्वीरें सामने आई है. दरअलस, सेंट्रो कार चालक ने एक बाइक सवार को टक्कर मार दी. जिसके बाद आरोपी कार चालक मौके से फरार हो गया. लेकिन बाइक सवार घायल युवक कार के नीचे ही फंसा रह गया. और कई किलोमीटर तक कार चालक पीड़ित को घसिटता चला गया. इस दौरान एक शख्स ने इस घटना को अपने कैमरे में कैद कर लिया. वहीं, कुछ देर बाद घायल गाड़ी के नीचे से निकल कर एक तरफ जा गिरा. जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया. जहां उसकी

लुधियाना पुलिस को उस समय बड़ी सफलता मिली जब गुप्त सूचना के आधार पर कट्टी गैंग के दो नामी गैंगस्टर को गिरफ्तार किया. पुलिस ने इनके पास से 2 पिस्टल, 2 मैगजीन और सात जिंदा कारतूस बरामद किए. आरोपियों की पहचान लुधियाना के परमजीत कुमार और महिदपुर के रूप में हुई है. इसकी जानकारी एडीसीपी सतनाम सिंह बैंस ने दी. उन्होंने बताया कि इन आरोपियों पर पहले से अलग-अलग थानों में करीब एक दर्जन आपराधिक मामले दर्ज हैं.

  खन्ना के सिविल अस्पताल से नवजात बच्चा चोरी का मामला सामने आया है. जहां बीते 17 सितंबर को डिलीवरी के बाद चेकअप करवाने आई महिला का बच्चा चोरी हो गया. पीड़ित महिला का आरोप है कि इलाज के दौरान एक महिला उसके पास आई और टेस्ट कराने के बहाने बच्चा लेकर चली गई. लेकिन थोड़ी देर इंतजार के बाद उसने अस्पताल स्टाफ से बच्चे के बारे में पूछा तो कोई जानकारी नहीं मिली. इसके बाद अस्पताल में हड़कंप मच गया और तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी गई. पुलिस ने मौके पर पहुंच कर अज्ञात महिला के खिलाफ मामला दर्ज