चंडीगढ़ मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंचकूला में हुई हिंसा के लिए सीधे रूप से हरियाणा सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। उनका कहना है कि सबसे बड़ी चूक 1.5 लाख लोगों को एक जगह इकट्ठा होने देना था। कैप्टन ने भले ही हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को जिम्मेदार माना, लेकिन पार्टी लाइन से इतर हो खïट्टर के इस्तीफे पर चुप्पी साध ली। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा इतनी बड़ी भीड़ को कंट्रोल करना अपने आप में बहुत बड़ी चुनौती होती है। वहीं, हरियाणा सरकार ने आरोप लगाया है कि डेरा प्रेमी पंजाब के रास्तों से होते हुए पंचकूला पहुंचे, पंजाब सरकार

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर फैसला आने के बाद हरियाणा व पंजाब पूरी तरह से दहल गया था। दोनों राज्यों में मोबाइल डाटा बेस्ड इंटरनेट सेवाएं व परिवहन सेवाएं बंद कर दी गई थी। अब धीरे-धीरे आम जनजीवन पटरी पर लौटने लगा है। हरियाणा व पंजाब के कई हिस्सों में आज से बस सेवा बहाल कर दी गई है। देर सायं तक कई शहरों में इंटरनेट सेवा भी बहाल की जा सकती है। प्रशासन ने रविवार सुबह डेरा सच्चा सौदा मुख्यालय में और आसपास लगे कर्फ्यू में ढील दी है। हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने कहा कि दिल्ली-कटरा रेल सेवाओं

चंडीगढ़  हरियाणा में डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम के समर्थकों के पंजाब और हरियाणा सहित कई स्थानों पर हिंसक आंदोलन से उपजी स्थिति पर पजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने चंडीगढ़ में प्रैस कांफ्रैंस की। शांति बनाए रखने में जिन्होंने मदद की उनका धन्यावाद मीडिया से बातचीत करते हुए कैप्टन ने कहा कि पंजाब में हुए नुकसान का भुगतान डेरा करेगा। पंजाब में मोटे तौर पर तोड़फोड़ की घटना नहीं हुर्इ है लेकिन जो भी नुकसान हुआ है उसका भुगतान डेरा करेगा। मेरी रूचि पंजाब और यहां कि शांति को लेकर है। शांति बनाए रखने में जिन्होंने मदद की उनका

चंडीगढ़ डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को सीबीआई कोर्ट द्वारा दोषी ठहराए जाने के महज कुछ ही देर बाद पंजाब की सुरक्षा व्यवस्था भी धरी की धरी रह गई। डेरा प्रेमियों ने करीब 9 जिलों में आगजनी की। हिंसा के बाद नौ जिलों में सेना की तैनाती कर दी गई है। इस दौरान कहीं पर सेवा केंद्र फूंका गया तो कहीं पर टेलीफोन एक्सचेंज को फूंकने का प्रयास किया। प्रशासन ने आठ जिलों बठिंंडा, मानसा, फरीदकोट, फिरोजपुर, मोगा, पटियाला, बरनाला व संगरूर में कर्फ्यू लगा दिया है। इसके अलावा फाजिल्का व मुक्तसर की एक-एक तहसील में भी कर्फ्यू लगाया गया है। इन

पंचकूला सीबीआई कोर्ट से डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के बाद पंजाब के 3 रेलवे स्टेशन मानसा, बल्लुआणा, मलोट में आग लगा गर्इ है। वहीं लहरागागा में मोटरसाइकिलों को आग के हवाले किया गया है। साथ ही पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने शांति बनाए रखने की अपील की है।

पंचकूला की सी.बी.आई. कोर्ट द्वारा डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को आरोपी करार दिए जाने के बाद पंजाब के हालात बिगड़ गए है। हिंसा को देखते हुए सरकार ने 5 जिलों में कर्फ्यू लगाया। रेलवे स्टेशनों को लगार्इ आग  बेकाबू भीड़ ने पंजाब में 3 रेलवे स्टेशनों मानसा, बल्लुआणा, मलोट में आगजनी की वारदात को अंजाम दिया। वहीं लहरागागा में मोटरसाइकिलों को आग के हवाले किया गया है।  डेरा समर्थकों ने तलबंडी साबों के गांव जीवन सिंह वाला में सुविधा केंद्र को आग लगा दी। कोटकपूरा में 2 बिजली घरों पर फैंके पैट्रोल बम कोटकपूरा में मोटरसाइकिल सवार नौजवानों द्वारा शहर के 2

जालंधर  डेरा सच्चा सौदा प्रमुख के फैसले से पहले उत्तर रेलवे ने गुरुवार को 6 और शुक्रवार को 22 ट्रेनें पंजाब की और जाने वाली रद्द कर दी हैं। चंडीगढ़-फिरोजपुर-चंढीगढ़ एक्सप्रैस इसके अलावा ज्यादातर पैसेंजर ट्रेनें रद्द की गर्इ है। वहीं डेरा प्रमुख पर फैसले के चलते प्रदेश में इंटरनेट सेवाएं बंद करने के आदेश दे दिए गए हैं। गृह सचिव रामनिवास समेत पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के गृह सचिवों की बैठक हुई। बैठक में तीन राज्यों में आज 3 बजे के बाद 72 घंटो के लिए पंजाब, हरियाणा चंडीगढ़ की इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी जाएगी। राम रहीम पर फैसले से

तरनतारन के कस्बा गोइंदवाल साहिब के समीप धुंदा गांव में तिरपन जिंदा बम मिलने के बाद गांव में दहशत फैल गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने गांव के लोगों को उस स्थान से दूर कर बम निरोधक टीम को इसकी सूचना दी। एसएसपी दर्शन सिंह ने बताया कि ये बम 1970 की जंग के हैं, जो आर्मी द्वारा जमीन में दबाए गए थे, और ये पुराने बम हैं।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख संत राम रहीम पर 25 अगस्त को पंचकूला की विशेष सीबीआई कोर्ट अपना फैसला सुनाएगी, जिसको को लेकर हरियाणा और पंजाब में सुरक्षा सख्त कर दी गई है। वहीं, बठिंडा के डेरा सलाबतपुरा में भी डेरा प्रेमी जमा होने लगे हैं और सभी से आपसी भाई-चारा बनाए रखने की अपील की जा रही है। इसके अलावा डेरा प्रेमियों ने अफवाहों की निंदा की है और किसी भी तरह की अफवाह पर ध्यान ना देने की अपील की है।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज शाम चार बजे कैबिनेट की आपात बैठक बुलाई है। बैठक में राज्य में सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा की जाएगी। आपको बता दें कि, पंचकूला की सीबीआई कोर्ट डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर 25 अगस्त को फैसला सुनाएगी। सुरक्षा के मद्देनजर पंजाब के सभी जिलों में धारा 144  लागू कर दी गई है और हरियाणा की सीमा से लगे सभी जिलों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।