पंजाब में किसानों की खुदकुशी के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. ताजा मामला मलेरकोटला के गांव अलीपुर में सामने आया है, जहां जगदेव सिंह नाम के किसान ने जहरीला पदार्थ खाकर खुदकुशी कर ली. जानकारी के मुताबिक किसान ने बेटी की शादी के लिए बैंक से कर्ज लिया था. जिसकी वजह से किसान परेशान था. फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. और कार्रवाई शुरू कर दी है.

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह आज दिल्ली का दौरा करेंगे. अपने इस दौरे के दौरान सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह किसानों की कर्जमाफी समेत कई मुद्दों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली से भी मुलाकात कर सकते हैं.

बटाला ट्रक और बाइक में आमने सामने की टक्कर का मामला सामने आया है। हादसे में तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, मरने वालों में दो महिलाएं शामिल हैं। वहीं तीसरा मृतक एक नौजवान है, जो ड्राइव कर रहा था। हादसा रविवार सुबह 10 बजे बटाला में हुआ। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बाइक बस में जा घुसी और शव सड़क पर बिखर गए। प्राइवेट बस थी, हादसे के बाद बस ड्राइवर और कंडक्टर फरार हो गए। बस की सवारियों ने पुलिस को सूचना दी। खबर मिलते ही बटाला पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को कब्जे में लिया। तब

लुधियाना महर्षि वाल्मीकि पर आपत्तिजनक टिप्पणी के मामले में सेशन जज गुरबीर सिंह की अदालत में अभिनेत्री राखी सावंत को राहत मिल गई है। उनकी तरफ से ट्रायल कोर्ट में पेश होने के लिए समय सीमा बढ़ाए जाने की याचिका अदालत ने मंजूर कर ली है। बता दें, वाल्मीकि समुदाय कि धार्मिक भावनाएं आहत करने के मामले सेशन जज ने उन्हें जमानत देते हुए 7 अगस्त को निचली अदालत में पेश होने व पुन: जमानती बांड भरने के आदेश दिए थे, लेकिन अमेरिका में शूटिंग के चलते राखी ट्रायल कोर्ट में पेश नहीं हो पाईं। इस कारण ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट विश्व गुप्ता की

लुधियाना के सिटी सेंटर घोटाला मामले में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को क्लीन चिट मिल गई है। घोटाले में अमरिंदर सिंह के साथ अन्य आरोपियों उनके बेटे रनिंदर सिंह और दामाद रमिंदर सिंह को भी राहत मिल गई है मामले की अगली सुनवाई दो सितंबर होगी। जिसमें दर्ज एफआईआर को रद्द कराने को लेकर फैसला होगा। दरअसल विजीलेंस ने कोर्ट में हलफनामा दायर किया है और केस में दर्ज एफआईआर को रद्द करने की मांग की है। सिटी सेंटर प्रोजेक्ट की घोषणा 2003 में की गई थी और इसे 2006 में लागू किया गया था, तब अमरिंदर सिंह राज्य

14 अगस्त की रात को खेमकरण सेक्टर में बीएसएफ की ओर से गिरफ्तार दो पाकिस्तानी युवकों ने खुलासा किया है कि डेढ़ माह के दौरान उन्होंने खालड़ा सेक्टर से 21 किलो हेरोइन की पांच बार तस्करी की है। पाकिस्तान के जिला लाहौर के गांव काहना निवासी युवक अली राजा पुत्र अनवर मुहम्मद व रमजान मुहम्मद पुत्र हाजी यूसुफ को बीओपी ठट्ठी जैमल सिंह के पास पाकिस्तान के गांव वेगल की ओर से सरहद पार करते समय बीएसएफ ने गिरफ्तार किया था। इन दोनों युवकों को प्रारंभिक पूछताछ के बाद बीएसएफ ने थाना खालड़ा पुलिस को सौंप दिया था। इन दोनों युवकों

श्री मुक्तसर साहिब की सहकारी बैंक में फर्जी खाते खुलवाकर और बैंक प्रबंधकों से मिलीभगत कर करीब साढ़े सात लाख रुपए की ठगी करने के मामले में पुलिस ने मामला दर्ज किया है। हालांकि, अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है। हरीके कलां गांव के रहने वाले जसविंदर सिंह ने पुलिस को शिकायत दी थी, जिसके आधार पर जांच करते हुए पुलिस ने मामला दर्ज किया है। जसविंदर सिंह ने बताया कि उनके गांव की ही हरीके कलां समाघ सहकारी सोसायटी के अध्यक्ष जसविंदर सिंह ने पूर्व सचिव गुरनाम सिंह, बैंक मैनेजर और कोषाध्यक्ष से मिलकर भाई भागो स्कीम के

पंजाब से एक दिन में पांच किसानों की खुदकुशी का मामला सामने आया है। बठिंडा, खन्ना, श्री मुक्तसर साहिब और बटाला में किसानों ने कर्ज से परेशान होकर खुदकुशी कर ली। बठिंडा के तियोना गांव में कर्ज से परेशान किसान ने खुदकुशी कर ली। बताया जा रहा है कि किसान पर करीब सात लाख रुपए का कर्ज था, जिस वजह से किसान  काफी लंबे वक्त से परेशान चल रहा था। आखिरकार किसान ने ट्रेन के आगे कुदकर खुदकुशी कर ली। दूसरा मामला खन्ना से सामने आया है, यहां 28 साल के किसान कुलदीप सिंह ने तीन लाख रुपए के कर्ज

अबोहर के हनुमानगढ़ रोड पर स्थित मॉल के बाहर दो गुट आपस में भिड़ गए। मामला पुरानी रंजिश का बताया जा रहा है। दरअसल, पैराडाइज मॉल के बाहर अकाली दल नेता विशु कंबोज अपनी दुकान पर बैठा था, जहां कुंडल गांव के कांग्रेसी सरपंच जगमनदीप सिंह, सुरेंद्र बंटी और गुरमीत से किसी बात को लेकर बहस हो गई। देखते ही देखते विवाद इतना बढ़ गया कि अकाली दल नेता ने फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें दो कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की गोली लगने से मौत हो गई, जबकि दोनों पक्षों के कई लोग घायल हो गए जिन्हें अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती किया गया

अमृतसर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि दस साल तक पंजाब में शासन करने वाले चार महीने में बोलने लगे हैं। सुखबीर सिंह बादल का नाम लिए बगैर कैप्टन ने कहा कि विपक्ष के पास कोई मुद्दा शेष नहीं है, इसलिए वह वर्तमान सरकार को फेल बता रहा है। अभी सरकार को बने महज चार माह ही हुए हैं। जो कमिटमेंट हमने की थी, वह शत प्रतिशत पूरी की जाएगी। कैप्टन यहां वीरवार को पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। किसानों द्वारा आत्महत्या किए जाने के मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए कैप्टन ने कहा कि यह विरोधियों की साजिश है। किसानों