किसानों की आत्महत्या देश के कई राज्यों में सरकारों के लिए बड़ी चुनौती बनती जा रही है लेकिन पंजाब के इन सात जिलों में किसानों की आत्महत्या के मामलों में पिछले डेढ़ दशक में तिगुई बढ़ोतरी हुई है। पंजाब यूनिवर्सिटी के सर्वे में इस बात हुई पुष्टि हुई है। सर्वे में बताया गया है कि फरीदकोट, फतेहगढ़ साहिब, होशियारपुर, पटियाला, रूपनगर, एसएएस नगर और श्री मुक्तसर साहिब में 2010 से 2016 के बीच 1309 किसानों ने खुदकुशी की। इससे पहले साल 2000 से 2011 के बीच यह आंकड़ा 365 था। जिनमें से 211 किसान थे और 154, कृषि मजदूर थे। जबकि

नौशेरा में पाकिस्तान ने शुक्रवार को सीजफायर का उल्लंघन किया। इस दौरान एक भारतीय जवान शहीद हो गया। 35 वर्षीय जवान नायक बख्तावर सिंह पंजाब के होशियारपुर से था। शहादत की खबर सुन पूरे गांव में मातम छा गया है। बताया जा रहा है कि नायक बख्तावर सिंह की 12 साल पहले ही शादी हुई थी और उनके 3 बच्चे हैं जिनमें बड़ा बेटा 11 साल का है, 9 साल की बेटी और महज नौ माह का बेटा है।  शनिवार सुबह होशियारपुर में शहीद बख्तावर सिंह का पूरे सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। शहीद की पत्नी जसबीर कौर ने कहा कि

जालंधर थाना-2 परिसर में स्थापित क्वार्टरों में रहने वाले पुलिस जवानों के परिवारों के साथ-साथ थाना-2, सी.आई.ए. स्टाफ-1, 2 एंटीफ्रॉड स्टाफ से लेकर कई स्टाफ पीने के पानी को तरस रहे हैं, जिस कारण महिलाओं ने हताश होकर बिजली विभाग के खिलाफ प्रदर्शन कर विरोध जताया। जानकारी के मुताबिक उक्त क्वार्टरों व बाकी स्टाफ में पानी सप्लाई करने हेतु क्वार्टरों में बने पार्क में एक पानी वाली मोटर विभाग द्वारा लगाई गई है। उक्त मोटर को बिजली सप्लाई का कनैक्शन पब्लिक हैल्थ विभाग के नाम से कई सालों से चल रहा है। बिजली विभाग के मुताबिक मोटर का बिल कई

पड़ोसी राज्यों के वांछितों को लेकर उत्तराखंड पुलिस फिर पसोपेश में है। वजह है दो दिन पहले फरीदकोट में पुलिस मुठभेड़ में तीन गैंगस्टरों के मारे जाने के बाद पंजाब पुलिस की ओर से जारी 13 फरार गैंगस्टर्स की सूची। पंजाब पुलिस ने इस गैंगस्टर्स के उत्तराखंड में छिपे होने की आशंका जताई है।  पंजाब पुलिस ने इन बदमाशों के उत्तर प्रदेश, दिल्ली और हिमाचल प्रदेश में छिपे होने का संदेह भी जाहिर किया है। इसे लेकर उत्तराखंड के अपर पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था राम सिंह मीणा ने दून समेत अन्य राज्यों की सीमा से लगते जिलों की

आम आदमी पार्टी के वरिष्‍ठ विधायक सुखपाल खैरा ने सांसद और पार्टी प्रधान भगवंत मान जैसी गलती ही शुक्रवार को कर दी. उन्‍होंने विधानसभा की मोबाइल पर वीडियो बनाकर फेसबुक पर डाल दी. इस बारे में विधानसभा स्‍पीकर काे जानकारी मिली तो उन्‍हें सदन की मर्यादा के हनन के आरोप में पूरे बजट सत्र के लिए सस्पेंड कर दिया गया. इस दौरान उन्होंने दिखाया कि कैसे कांग्रेसी अौर अकाली बहस कर रहे हैं. उन्होंने स्टेटस में लिखा कि देखें कि कैसे अकालियों  और कांग्रेसियों ने पंजाब विधानसभा को पंचायत से भी बुरा स्थान बना दिया है और आपस में लड़ कर सदन

पंजाब पुलिस की ऑर्गेनाइज्ड क्राइम कंट्रोल यूनिट ने मुठभेड़ के दौरान कुख्यात गैंगस्टर रणजोत सिंह राणा को गिरफ्तार किया है। इसके पास से दो पिस्तौल और भारी मात्रा में जिंदा कारतूस बरामद हुए हैं। इस दौरान राणा का अन्य साथी साहिलप्रीत सिंह पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। ऑर्गेनाइज्ड क्राइम कंट्रोल यूनिट के इंचार्ज इंस्पेक्टर ने बताया कि ये दोनों गैंगस्टर विकी  गौंडर के साथी हैरी चट्ठा और गोपी घनश्याम पुरिया को हथियार सप्लाई करते थे। उन्हें सूचना मिली थी कि दोनों मेरठ से हथियार सप्लाई करने आ रहे हैं, जैसी ही गैंगस्टरों की गाड़ी मानांवाला के पास पहुंची तो

पंजाबी के प्रसिद्ध साहित्यकार और नाटककार प्रोफेसर का आज मानसा में अंतिम संस्कार किया गया। प्रोफेसर अजमेर सिंह औलख पिछले लंबे समय से कैंसर की बीमारी से जूझ रहे थे, जिनका पिछले दिनों मोहाली के अस्पताल में इलाज चल रहा था। गुरुवार सुबह उन्होंने मानसा में अपने घर पर अंतिम सांस ली। प्रोफेसर औलख को कई नामी पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है। प्रोफेसर औलख ने पंजाबी साहित्य और नाटक में कीर्ति और छोटे किसानों की बात की।

बठिंडा पुलिस ने हत्या के मामले में एक भगौड़े  गैंगस्टर को गिरफ्तार किया है। गैंगस्टर का नाम अर्जुन सिंह है और पुलिस ने उसे हथियार के साथ गिरफ्तार किया है।पुलिस को सूचना मिली कि गैंगस्टर अर्जुन सिंह लुधियाना के बुलाढेवाला गांव में अपने रिश्तेदार के यहां आया है, जिस पर पुलिस ने गांव की घेराबंदी कर उसे हथियारों समेत गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को जानकारी मिली है कि, गैंगस्टर अर्जुन सिंह बठिंडा के दीप नगर इलाके में करीब एक साल से नाम बदलकर रह रहा था। इस पर पांच आपराधिक मामले भी दर्ज हैं। वहीं, बठिंडा पुलिस ने गैंगस्टर अर्जुन सिंह को

पंजाब विधानसभा के बजट सत्र का आज तीसरा दिन है। किसानों की कर्जमाफी को लेकर आज भी सदन में हंगामे के आसार हैं। आम आदमी पार्टी और शिरोमणि अकाली दल के विधायक कर्जमाफी के मुद्दे पर कैप्टन सरकार को घेरने की तैयारी कर चुके हैं। इससे पहले सत्र के दूसरे दिन शिरोमणि अकाली दल और आम आदमी पार्टी के विधायकों ने सदन में जोरदार हंगामा किया। आप विधायकों ने स्पीकर पर कागजों का बंडल भी फेंके। इसकी वजह से दूसरे दिन कि कार्यवाही हंगामे की भेंट चढ़ गई, जिसपर पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर शिरोमणि अकाली

पंजाब विधानसभा में दूसरे दिन की कार्यवाही हंगामे के साथ शुरू हुई। विपक्षी दलोें के विधायकाें ने हंगामा शुरू किया और नारेबाजी की तो सत्‍ता पक्ष ने भी इसका जवाब दिया। इससे सदन में भारी शाेरगुल हो गया और इस कारण स्‍पीकर ने सदन की कार्यवाही 30 मिनट के लिए स्‍थगित की दी। सदन की कार्यवाही शुरू होते ही शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के विधायकों ने हंगामा शुरू कर दिया। शिअद के विधायक अपनी सीट से खड़े हो गए और किसानों के मुद्दे पर चर्चा की मांग की। शिअद के विधायक किसानों के मुद्दे पर काम रोको प्रस्ताव लाना चाहते थे।