पंजाब में गैंस्टर्स पर शिकंजा कसने के लिए सख्त कानून लाने की तैयारी की जा रही है। कानून बनाने के लिए सब कमेटी का गठन किया गया है। जानकारी के मुताबिक, पंजाब में महाराष्ट्र और गुजरात की तर्ज पर पकोका कानून लाने के लिए इस कमेटी का गठन हुआ है। कमेटी में पंजाब कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू, ब्राहृ महिंद्रा के अलावा डीजीपी और गृह विभाग का एक अधिकारी भी शामिल हैं। ये कमेटी तय करेगी कि पंजाब में पकोका हो या ना हो। कमेटी की रिपोर्ट पर विधानसभा में कानून पास करवाया जाएगा।

उत्तरी-कश्मीर के नौगाम सेक्टर में आतंकियों से लोहा लेते गुरदासपुर के मानेपुर गांव का एक जवान गुरविंदर सिंह शहीद हो गया, जिसके बाद पूरे गांव में शोक की लहर है। हालांकि, परिजनों और गांव वासियों को गुरविंदर सिंह की शहादत पर गर्व है।10 जून को शहीद का पार्थिव शरीर गांव लाया जाएगा। गुरविंदर की दो महीने पहले ही जालंधर से पूंछ राजौरी सेक्टर में तैनाती हुई थी। हंसमुख और मिलनसार गुरविंदर के शहीद होने की खबर बीएसएफ ने फोन पर दी। अपने बेटे की शहादत पर परिजनों और गांव के लोगों की आंख तो नम हैं, लेकिन उसकी बहादुरी पर

तलवंडी साबो के भागी बंदर गांव में विनोद नाम के युवक के कुछ लोगों ने हाथ-पैर काट दिए। जिससे उसकी मौत हो गई। आरोप है कि युवक नशा बेचता था जिसकी वजह से गांव के लोग नाराज थे। वहीं, अपनी मौत से पहले विनोद ने बताया था कि कुछ लोग उसे गाड़ी में उठाकर ले गए और उसके बाद मारपीट की और उसे गांव में फेंक दिया। विनोद ने ये भी बताया था कि चुनावी रंजिश की वजह से उसके ऊपर हमला हुआ था।

जालंधर मध्य प्रदेश में आंदोलन कर रहे किसानों पर गोलियां चलाने के विरोध में गुरुवार को पंजाब में भी किसानों का गुस्सा फूट पड़ा. बठिंडा, फिरोजपुर, मानसा आदि जिलों में किसानों ने प्रदर्शन किया. इसके अलावा संगरूर में किसानों और कांग्रेसियों ने लुधियाना से हिसार जाने वाली ट्रेन को रोककर अपना विरोध जताया. बठिंडा में किसान यूनियन के जिला प्रधान बलदेव सिंह की अगुवाई में बड़ी संख्या में किसान चिल्ड्रन पार्क में इकट्ठा हुए और फिर वहां से मिनी सचिवालय तक रोष मार्च निकाला. किसानों ने सचिवालय के बाहर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला

लुधियाना में एक उद्ममी ने अपने पूरे परिवार को गोली मार कर आत्‍महत्‍या कर ली।  उद्यमी, उसकी पत्‍नी अौर बेटे की मौत हो गई। बेटी की हालत गंभीर है। उसे अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। घटना शहर के पॉश इलाके माॅडल टाउन में हुई है। बताया जाता है कि किसी उद्यमी व्‍यापारिक कारणों और परिवारिक कलह से परेशान था। घटना के बाद पुलिस कमिश्‍नर आरएन धोके भी पहुंचे हैं। इससे दुखी लोहा व्यापारी जगमीत पाल खुराना ने अाज सुबह करीब 11 बजे अपनी पत्नी जसमीत, बेटे जश्नदीप अौर बेटी बिसमीन को गोली मार दी। इसके बाद खुद भी अात्महत्या कर

होशियारपुर के युवक पलविंदर सिंह के मलेशिया में लापता होने से परिजन असमंजस में हैं। परिवार वालों का कहना है कि, परमिंदर मर्चेंट नेवी के लिए दोस्त के साथ मलेशिया गया था, लेकिन चार जून को उन्हें पता चला की शिप पर काम करते हुए परमिंदर का पैर फिसल गया और वो समुंदर में गिर गया, जिसके बाद से परमिंदर को कुछ पता नहीं चल रहा। पलविंदर के परिजनों ने उसके दोस्त पर शक जताया है, साथ ही उन्होंने विदेश मंत्रालय से मामले में संज्ञान लेने की गुहार लगाई है।

पंजाब कैबिनेट की बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसलों पर मुहर लगाई गई. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में 14 से जून तक बजट सत्र चलाने का निर्णय लिया गया. इसके अलावा पेंशन और सामाजिक सुरक्षा की योजनाओं का लाभ लेने को पात्रता के लिए वार्षिक आय की सीमा 60 हजार रुपय तक बढ़ाई गई. राज्य में रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉर्टी के क्रियान्न के लिए अधिसूचना को भी मंजूरी दी गई. कैबिनेट ने वृद्धावस्था पेंशन और अन्य  सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के अधीन भुगतान सीधा बैंक खातों द्वारा करने का निर्णय लिया है. इससे पहले ग्रामीण इलाकों में लाभों

मध्य प्रदेश की आग अब हरियाणा और पंजाब तक पहुंच गई है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार से किसानों की खस्ता हालत को लेकर गुहार लगाई है। सीएम कैप्टन ने मांग की है कि किसानों की कर्ज माफी को लेकर केंद्र सरकार जल्द ही जरूरी कदम उठाए। साथ ही उन्होंने कहा कि स्वामीनाथन रिपोर्ट के मुताबिक ही किसानों की फसलों की एमएसपी तय की जाए।

पंजाब कांग्रेस ने अब पूर्व अकाली शासनकाल में राज्य में शराब व रेत के ठेकों के आबंटन को लेकर सी.बी.आई. जांच की मांग की है. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह को लिखे पत्र में कांग्रेस के सांसद रवनीत सिंह बिट्टू, विधायकों राकेश पांडे, सुरेन्द्र डावर, भारत भूषण आशु, कुलदीप सिंह, संजय तलवाड़, पंजाब कांग्रेस के महासचिव तथा 2 जिला प्रधानों गुरप्रीत सिंह गोगी व गुरदेव सिंह लापरां ने कहा कि अकाली दल के शासनकाल में 10 वर्षों तक शराब व रेत माफिया का साम्राज्य रहा. पूर्व सरकार के समय बहुत कम दरों पर  शराब व रेत के खड्ड अलॉट होते रहे. पत्र में

गुरदासपुर के कस्बा धारीवाल में विजिलेंस टीम ने एक पटवारी को रिश्वत लेते हंगे हाथ गिरफ्तार किया है। किसान अमरीक सिंह ने बताया कि उसने अपनी जमीन की निशानदेही के लिए पटवारी मंजीत सिंह संपर्क किया, तो पटवारी ने अमरीक सिंह से काम के एवज में तीन हजार रुपए की रिश्वत की मांग की, और दोनों के बीच 2500 में सौदा तय हो गया। बाद में इसकी शिकायत किसान अमरीक सिंह ने विजिलेंस टीम से की, जिसके बाद विजिलेंस टीम ने कार्रवाई करते हुए पटवारी को 2500 रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया।