पठानकोट पठानकोट में मामून आर्मी कैंट के पास दो संदिग्ध बैग मिले हैं. बैग में मोबाइल टावर की 2 बैटरियां मिली हैं. पुलिस और सेना मौके पर पहुंची गई हैं. इससे पहले पठानकोट एयरबेस पर हमला हो चुका है. इस वजह से भी यहां अलर्ट की स्थिति रहती है. बताया जा रहा है कि दोनों बैग काले रंग के थे. गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से लगातार भारत-पाक बॉर्डर पर फायरिंग हो रही है, जिसकी वजह सुरक्षा एजेंसियां और बी ज्यादा अलर्ट हैं. https://twitter.com/ANI_news/status/859965263684411392 आपको बता दें कि मंगलवार को गुरदासपुर इलाके में एक संदिग्ध स्कॉर्पियो बरामद हुई थी, जिसे जम्मू से लूटा

पठानकोट नरोट इलाके से सफेद कलर की संदिग्ध स्कॉर्पियो कार बरामद हुई है. जानकारी के मुताबिक ये कार जम्मू के विजयपुर से चाकू की नोक पर छीनी गई थी. इस कार में 6 लोग सवार थे जोकी फरार हो गए हैं. गाड़ी में लगी नंबर प्लेट भी जाली है. पठानकोट के बमियाल बॉर्डर पर संदिग्धों की तलाश में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है. नरोट के एसएचओ भारत भूषण ने बताया कि पुलिस ने दो घंटे तक कार का पीछा कर इसे बरामद किया है, लेकिन इसमें मौजूद लोग मौके से फारर होने में कामयाब रहे जिनकी तलाश में आसपास के इलाके में

अमृतसर अपनी शिकायतें लेकर चंडीगढ़ सीएम ऑफिस जाने वाले पंजाब के लोगों के लिए राहत की खबर है. अब सीएम से सीधे शिकायत या फरियाद करने के लिए चंडीगढ़ जाने की जरूरत नहीं है, क्यों अब सीएम का नया कार्यालय अमृतसर में तैयार हो रहा है. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह अमृतसर में अपना एक ऑफिस खोलने जा रहे हैं जो एक हफ्ते में शुरू हो जाएगा. यहां लोगों की शिकायतें सुनी जाएगी. बता दें कि सीएम का कैंप ऑफिस सिविल हॉस्पिटल के सामने पीडब्ल्यूडी के रेस्ट हाउस में खोला जाएगा.

चंडीगढ़ सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने खुद को एक फौजी बताते हुए कहा है कि अगर पाकिस्तानी एक सिर काटते हैं तो हमें तीन सिर काटने चाहिए. हमें एक सज्जन फौज की तरह बर्ताव करना बंद कर देना चाहिए. जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में एलओसी पर पाक सेना की ओर से दो जवानों के शवों के साथ अमानवीय हरकत करने पर प्रतिक्रिया जताते हुए कैप्टन ने कहा कि भारत की प्रतिक्रिया बिल्कुल स्पष्ट होनी चाहिए. सीएम कैप्टन ने कहा कि भारत को सीमा पार की ताकतों के प्रति बिल्कुल भी समझौता नहीं करना चाहिए. कैप्टन ने कहा कि वह किसी को भी राज्य

पंजाब के पठानकोट और गुरदासपुर जिलों में कुछ संदिग्ध देखे गए हैं, जिसके बाद पुलिस ने तलाश शुरू कर दी है। तलाश बुधवार को जारी है। इलाके में चार-छह संदिग्ध देखे गए हैं। पुलिस इलाके में संदिग्धों के देखे जाने को गुरदासपुर जिले में मंगलवार को एक स्कॉर्पियो एसयूवी द्वारा पुलिस नाके को तोड़े जाने की घटना से जोड़कर देख रही है। एक अधिकारी ने बताया कि वाहन ने जब पुलिस नाके को तोड़ा, उसमें छह लोग देखे गए। बाद में स्कॉर्पियो लावारिस हालत में मिला। अधिकारी ने कहा, "उनके पास वाहन की नकली नंबर प्लेट थी। वाहन जम्मू के विजयनगर

पंजाब सरकार ने शहीद परमजीत सिंह के परिजनों के लिए आर्थिक मदद का भी एलान कर दिया है। पंजाब सरकार परमजीत सिंह के परिजनों को बारह लाख की आर्थिक मदद देगी। इसके अलावा परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी और शहीद के बच्चों की पढ़ाई का सारा खर्च पंजाब सरकार उठाएगी। इसके अलावा मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह रविवार को शहीद परमजीत के परिजनों से मुलाकात करने के लिए तरनतारन में उनके पैतृक गांव भी जाएंगे।

पुंछ हमले में शहीद हुए परमजीत सिंह की बेटी को उनकी शहादत पर गर्व है। उन्होंने मीडियो से बातचीत के दौरान कहा कि, पिता को खोने का दुख है लेकिन मुझे उनकी शहादत पर गर्व है। [caption id="attachment_28834" align="alignnone" width="600"] शहीद परमजीत सिंह[/caption] आपको बता दें, शहीद परमजीत सिंह की दो बेटियां और एक बेटा है और वो सोमवार को पुंछ में पाकिस्तान की ओर से किए गए हमले में शहीद हुए थे।

खालसा कॉलेज में छात्र हरप्रीत सिंह की मौत मामले को लेकर छात्रों के धरना में आम आदमी पार्टी के विधायक एचएस फुल्का शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने हरप्रीत सिंह के परिजनों से भी मुलाकात की। एचएस फुल्का ने मामले को जल्द सुलझाने के लिए पुलिस अधिकारियों से फोन पर बात की। उन्होंने कहा कि इस मामले के आरोपी को जल्द ही गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पाक सेना द्वारा किए गए बर्बर हमले की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि, 'सेना को कर्तव्य निर्वहन के दौरान खतरनाक स्थितियों से निपटने के लिए खुली छूट दी जानी चाहिए।' उन्होंने सीमा पर सैनिकों पर बढ़ते खतरे पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि भारतीय सैनिकों के साथ एकजुटता प्रदर्शित की। मुख्यमंत्री स्वयं एक भूतपूर्व सैनिक हैं। उन्होंने कहा कि हमारे सैनिकों को सभी तरह के खतरों और अत्याचार का सामना करना पड़ रहा है। ना केवल सीमापार दुश्मन देश की सेना की ओर से बल्कि कभी कभी नागरिकों की ओर से भी खतरे का

गर्मियों के शुरू होते ही लोग गर्मी से निजात पाने के लिए नहरों, तालाबों और नदियों का सहारा लेते हैं। पठानकोट में चक्की दरिया में नहाने गया एक बच्चा डूब गया और दूसरे ने बड़ी मुश्किल से अपनी जान बचाई। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे प्रशासन और पुलिस ने बचाव का काम शुरू कर दिया। बताया जा रहा है कि दोनों छात्र एक प्राइवेट स्कूल में पड़ते हैं, दो घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद लापता हुए छात्र का शव बरामद किया गया।