दिल्ली पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात की. मुलाकात के दौरान सरप्लस बिजली को पाकिस्तान और नेपाल को बेचने की अनुमति, किसानों का मुद्दा और विशेष पैकेज को लेकर चर्चा की गई. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से राज्य में पैदा हो रही सरप्लस बिजली को पाकिस्तान और नेपाल को बेचने की अनुमति मांगी और इस मामले में दखल देने की अपील की, ताकि प्रदेश में आर्थिक संसाधन और बढ़ सके और लोगों पर टैक्स का भार कम हो. https://twitter.com/capt_amarinder/status/855062043589836800 मुख्यमंत्री ने पीएम से मुलाकात के दौरान किसानों का भी मुद्दा उठाया और

कनाडा के रक्षा मंत्री हरजीत सिंह सज्जन के भारत दौरे का आज तीसरा दिन है। सज्जन आज अमृतसर में स्वर्ण मंदिर पहुंचे। हरजीत सिंह सज्जन ने श्री हरमंदिर साहिब में मत्था टेका। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी समेत कई सिख संगठन, कनाडा के रक्षा मंत्री को सम्मानित करेंगे। इसके अलावा सज्जन होशियारपुर के पास अपने पैतृक गांव भी जाएंगे। सज्जन बुधवार देर शाम दिल्ली से अमृतसर पहुंचे। अमृतसर के डीसीपी ने उनका स्वागत किया। एयरपोर्ट पर और कोई भी सीनियर अधिकारी या राजनेता उनके स्वागत के लिए मौजूद नहीं था। कुछ सिख जत्थेबंदियों के सदस्य पोस्टर लेकर एयरपोर्ट के बाहर उनके स्वागत

पंजाब और हिमाचल प्रदेश के एक वॉन्टेड गैंगस्टर जसपाल सिंह उर्फ जस्सी को पुलिस ने नुपूरबेदी के पास मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि जसपाल के बारे में गुप्त सूचना मिलते ही गाव घनोला में नाकेबंदी की गई, इस दौरान पुलिस की कई टीमों ने दबिश दी। जैसे ही जसपाल नालागढ़ की तरफ से पहुंचा तो पुलिस ने उसे रूकने का इशारा किया, पर उसने पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी, जिसका मुहंतोड़ जवाब देते हुए पुलिस ने जसपाल को गिरफ्तार कर लिया। आपको बता दें जसपाल पर हत्या, लूट जैसे कई संगीन मामले दर्ज हैं.

पंजाब सीएम के पैतृक गांव मेहराज में घर में घुसकर एक दंपत्ति की बेरहमी से हत्या का मामला सामने आया। दोनों की पहचान हरपाल सिंह और गुरमौल कौर के तौर पर हुई है। मृतक के भतीजे ने बताया कि वो रोज की तरह जब उनके घर गए तो, दोनों खून से सने हुए थे। गुरमौल कौर की मौत हो चुकी थी, जबकि हरपाल सिंह को गंभीर हालत में फौरन अस्पताल ले जाया गया, लेकिन इलाज के दौरान उन्होंने भी दम तोड़ दिया। हत्या के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल सका है, पुलिस की जांच जारी है।

पंजाब में अमृतसर एयरपोर्ट से इंटरनेशनल फ्लाइट्स को दिल्ली शिफ्ट करने के मामले में पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। पिछली सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने एयर इंडिया से जवाब मांगा था, जिसपर एयर इंडिया ने बताया कि अमृतसर से इंटरनेशनल फ्लाइट्स के चलते उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। इसलिए फ्लाइट्स को दिल्ली शिफ्ट किया गया है। वहीं, याचिकाकर्ता के वकील ने कोर्ट को बताया कि कई निजी एयरलाइंस अमृतसर से इंटरनेशनल फ्लाइट्स शुरू करने को तैयार है। मामले में अगली सुनवाई 26 मई को होगी।

पंजाब में वीआईपी कल्चर को लेकर आज मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह रिव्यू मीटिंग लेंगे। जानकारी के मुताबिक इस मीटिंग में पंजाब के डीजीपी और एडीजीपी भी मौजूद रहेंगे। बैठक में प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी बात की जाएगी। इसके अलावा सीएम अमरिंदर सिंह बैठक में जरूरी निर्देश भी देंगे।

आज कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में पंजाब मंत्रिमंडल की अहम बैठक होगी। पहले ये बैठक 20 अप्रैल को रखी गई थी लेकिन प्रधानमंत्री द्वारा इसी दिन SYL मुद्दे पर पंजाब-हरियाणा के मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाने की वजह से ये बैठक आज बुलाई गई है। जानकारी के मुताबिक बैठक में SYL मुद्दे पर प्रधानमंत्री के समक्ष रखे जाने वाले पंजाब के पक्ष पर भी चर्चा की जाएगी। इसके अलावा बैठक में संसदीय सचिव लगाने संबंधी आॢडनैंस पर भी चर्चा हो सकती है। इस दौरान पहली मंत्रिमंडल बैठक में हुए 118 फैसलों पर हुई कार्रवाई की समीक्षा की जाएगी। उल्लेखनीय है कि

जालंधर के गढ़ा इलाके में 16 अप्रैल को एक युवक की हत्या मामले में दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपी सगे भाई है और नशे को लेकर इन्होंने अपने दोस्तों के साथ मिलकर टिंकू नाम के युवक की तेजधार हथियार से हमला कर हत्या कर दी थी। फिलहाल पुलिस, बाकी आरोपियों को तलाश में जुट गई है।

पंजाब में निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ एक तरफ जहां अभिभावकों ने मोर्चा खोल रखा है, सड़कों पर उतरकर मनमानी का विरोध किया जा रहा है। वहीं, अब शिक्षा विभाग भी निजी स्कूलों की मनमानी की शिकायतों पर एक्शन लेता दिखा रहा है। गुरदासपुर में जिला शिक्षा अधिकारी सतिंदर सिंह ने कई निजी स्कूलों नें जाकर जांच की। सतिंदर सिंह ने बताया कि जो स्कूल नियमों कायदों की अनदेखी कर रहे हैं उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी

एक महीना पूरा करने के बाद अब जल्द ही पंजाब सरकार के कैबिनेट का विस्तार देखने को मिल सकता है। सूत्रों की मानें तो अगले महीने में कैप्टन सरकार के कैबिनेट का विस्तार हो सकता है, जिसमें आठ मंत्री कैबिनेट में शामिल किए जा सकते है। ये विस्तार 15 मई के बाद संभव है।