ब्रह्मपुत्र नदी में चीन ने छोड़ा पानी, अरुणाचल और असम में मच सकती है तबाही

0
405
views

सीमा और सैन्य स्तर पर भारत की चिंताएं बढ़ाने वाला चीन अब पानी के जरिए देश की मुश्किलें बढ़ा सकता है. चीन ने ब्रह्मपुत्र नदी में पानी का स्तर बढ़ने को लेकर भारत को अलर्ट किया है. जिससे नदी की डाउन स्ट्रीम के किनारे बसे भारतीय इलाकों में बाढ़ की आशंका जताई गई है. इस बात की जानकारी अरुणाचल प्रदेश के सांसद निनोंग ईरिंग ने दी.

केंद्रीय जल संसाधन मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, चीन में यह अभूतपूर्व स्थिति है जहां सांगपो नदी में पानी के बढ़े हुए स्तर ने 150 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. इसलिए चीन ने भारत के साथ यह सूचना साझा की है.

सांसद निनोंग इरिंग ने कहा कि चीन में भारी बारिश के बाद सांगपो में पानी का स्तर काफी बढ़ गया है. उन्होंने कहा, ‘स्थानीय प्रशासन ने उन्हें बताया कि चीन की सरकार ने भारत सरकार को ये बता दिया है कि अरुणाचल प्रदेश में बाढ़ आ सकती है. हमने इस अलर्ट को गंभीरता से लिया है और लोगों को इस बारे में चेताया गया है.’

निनोंग ईरिंग ने बताया है कि अरुणाचल प्रदेश में सियांग नदी अभी तक सामान्य है, लेकिन उसके किनारे बसे पूर्वी और ऊपरी सियांग जिलों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है. बता दें कि इस नदी को चीन में सांगपो, अरुणाचल में सियांग और असम में ब्रह्मपुत्र के नाम से जाना जाता है.

हाल ही में ब्रह्मपुत्र नदी में जल-प्रवाह से जुड़ी सूचनाएं को लेकर भारत के जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा पुनर्जीवन मंत्रालय और चीन के जल संसाधन मंत्रालय के बीच समझौता हुआ था. इस समझौते के तहत यह तय हुआ था कि चीन हर साल बाढ़ के मौसम यानि 15 मई से 15 अक्तूबर के बीच ब्रह्मपुत्र नदी में जल-प्रवाह से जुड़ी सूचनाएं भारत को देगा.