CJI पर महाभियोग : कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट से वापस ली याचिका

0
399
views

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव को खारिज करने के उपराष्ट्रपति के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका को कांग्रेस ने वापस ले लिया है. कांग्रेस सांसदों ने याचिका को पांच जजों की बेंच में भेजे जाने पर ऐतराज जताते हुए यह कदम उठाया. सुप्रीम कोर्ट में यह याचिका कांग्रेस के राज्यसभा सांसद प्रताप सिंह बाजवा और डॉक्टर अमी याग्निक ने दायर की थी.

कांग्रेस सांसदों की ओर से वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने SC में पूछा कि मामले की सुनवाई के लिए पांच न्यायाधीशों की पीठ गठित करने का आदेश किसने दिया. साथ की कपिल सिब्बल ने इस मामले को संविधान पीठ को सौंपने के आदेश की कॉपी मांगी. उन्होंने कहा कि हम उस आदेश को चुनौती देना चाहते हैं.

जस्टिस सीकरी ने कहा कि उनके पास प्रशासनिक आदेश वाली कॉपी नहीं है. पांच जजों की बेंच ने दलील दी कि मामले की सुनवाई मेरिट पर होनी चाहिए. वहीं अटॉर्नी जनरल ने कहा कि पीठ याचिकाकर्ता को प्रशासनिक ऑर्डर की कॉपी नहीं दिखा सकती. इसके बाद पीठ ने कपिल सिब्बल से पहले याचिका दिखाने को कहा.

कपिल सिब्बल ने अड़ते हुए कहा कि हम मेरिट पर दलील पेश नहीं करेंगे, हमें प्रशासनिक आदेश की कॉपी चाहिए. उन्होंने कहा, ‘क्या संविधान में चीफ जस्टिस का प्रशासनिक आदेश ही अकेला ऐसा आदेश है जिसे चुनौती नहीं दी जा सकती. हम उस पर कानून जानना चाहते हैं.’ कॉपी न मिलने पर सिब्बल ने कहा कि वह याचिका वापस ले रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट ने अर्जी वापस लेने की अनुमति देकर मामले को खारिज कर दिया.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ कांग्रेस समेत 7 राजनीतिक पार्टियां राज्यसभा में महाभियोग का प्रस्ताव लेकर आई थीं. जिसे राज्यसभा के चेयरमैन वेंकैया नायडू ने खारिज कर दिया था. कांग्रेस ने वेंकैया नायडू के फैसले को ‘असंवैधानिक और गैरकानूनी’ करार दिया था.