Coronavirus: सीएम मनोहर लाल की घोषणा, निजी अस्पताल के स्टाफ को भी सरकारी तर्ज पर मुआवजा

0
280
views

सीएम मनोहर लाल ने प्राइवेट अस्पतालों के डाक्टरों, पैरा मेडिकल स्टाफ, नर्स और सफाई कर्मचारियों के साथ-साथ पुलिस कर्मचारियों को भी राहत देने की बड़ी घोषणाएं की हैं. किसानों को अपने बैंकों को फसली ऋण की किस्त 15 अप्रैल तक जमा करानी थी, लेकिन अब इसे डेढ़ माह आगे बढ़ाकर 30 जून तक कर दिया गया है. इस अवधि में किसानों को बैंकों को ब्याज का भुगतान नहीं करना पड़ेगा.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्राइवेट अस्पतालों के चिकित्सकों और पैरा मेडिकल स्टाफ के लिए एक्सग्रेशिया राशि की घोषणा की. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमित मरीज का इलाज करते हुए किसी अनहोनी पर जिस तरह से सरकारी चिकित्सक को 50 लाख रुपये की एक्सग्रेशिया राशि प्रदान की जानी है, उसी तर्ज पर अब प्राइवेट अस्पतालों के डाक्टरों के लिए भी यही व्यवस्था लागू कर दी गई है. सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों की नर्स के लिए यह राशि 30 लाख रुपये, पैरा मेडिकल स्टाफ के लिए 20 लाख रुपये तथा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के लिए 10 लाख रुपये की राशि प्रदान की जाएगी.

वहीं ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों के साथ लॉकडाउन के दौरान यदि किसी पुलिस कर्मचारी के साथ अनहोनी होती है तो उसके परिवार को 30 लाख रुपये की एक्सग्रेशिया राशि का लाभ प्रदान किया जाएगा. राज्य सरकार हर माह प्रदेश के लोगों पर 1500 करोड़ रुपये खर्च करेगी.