Coronavirus: रेलवे ने बताया 20 मई से 4 लाख लोगों ने अब तक की यात्रा, 80 फीसदी ट्रेनें यूपी और बिहार के लिए चली

0
117
views

कोरोना लॉकडाउन के चलते फंसे हुए लोगों को निकालने के लिए रेलवे ने अहम भूमिका निभाई. रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने कहा कि करीब 2600 से ज्यादा श्रमिक ट्रेनें विभिन्न राज्यों में चलाई गई और 26 लाख से ज्यादा यात्रियों को उनके घर पहुंचाया गया. उन्होंने कहा कि 80 फीसदी ट्रेनें यूपी और बिहार के लिए चली.

उन्होंने कहा कि 20 मई से 4 लाख लोगों ने अब तक यात्रा की हैं. उन्होंने कहा कि 1 मई को श्रमिक स्पेशल ट्रेनें शुरू की गईं. सभी यात्रियों को मुफ्त भोजन और पीने का पानी उपलब्ध कराया जा रहा है. ट्रेनों और स्टेशनों में स्वच्छता प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का भी पालन कराया जा रहा है.

रेलवे की तरफ से पहले से ही देशभर में कोरोना लॉकडाउन के चलते फंसे हुए प्रवासी मजदूरों को निकालने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं और 15 जोड़ी स्पेशल पैसेंजर्स ट्रेनें दिल्ली से 15 अलग जगहों के लिए चल रही हैं. हालांकि, रेल मंत्रालय ने यह भी घोषणा की है कि वे 1 जून से करीब 200 ट्रेन शुरू करने जा रहे हैं, जिसकी बुकिंग 21 मई से शुरू कर दी गई. इन सभी चीजों के बावजूद भारतीय रेलवे को पटरी पर लाने के लिए और अधिक घोषणाएं की जा सकती है.