दिल्ली हिंसा : 28 लोगों की मौत, 18 FIR दर्ज, 106 लोग गिरफ्तार

0
702
views

देश की राजधानी दिल्ली में रविवार के बाद हुई हिंसा अब थम गई है. बुधवार को दिल्ली में हिंसा की कोई बड़ी घटना नहीं हुई है, लेकिन शहर में अभी भी अजीब-सी शांति है. और हर किसी को आशा है कि दिलवालों की दिल्ली में अमन जल्द ही लौटेगा.

  • हाई कोर्ट की फटकार के बाद केंद्र और राज्य सरकार एक्शन में आई है
  • राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर दिल्ली की सड़कों पर उतर लोगों से बात की और उन्हें भरोसा दिलाया.
  • दिल्ली के मौजपुर इलाके में जहां पर सबसे पहले हिंसा भड़की थी. उस जगह अब सबकुछ शांत होने लगा है, यहां पर वाहनों का चलन बढ़ने लगा है. हालांकि, अभी भी सुरक्षाबलों की भारी तैनाती है.
  • उत्तर पूर्वी इलाके में तीन दिन तक उपद्रवियों ने तांडव मचाया और कई इलाकों में आगजनी, पत्थरबाजी, लूटपाट की घटनाएं सामने आईं.
  • अस्पताल की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, दिल्ली हिंसा में अभी तक 28 मौतें हुई हैं.
  • इनमें 26 मौत गुरु तेग बहादुर अस्पताल और 2 LNJP अस्पताल में हुईं. इसके अलावा घायलों की संख्या 150 से अधिक है.

अदालत की फटकार के बाद एक्शन में दिल्ली पुलिस!

दिल्ली हिंसा पर बुधवार को दिल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई हुई, इस दौरान अदालत ने दिल्ली पुलिस पर सवाल खड़े किए. कोर्ट की फटकार के बाद पुलिस एक्शन में आई और अबतक 18 FIR दर्ज की गई, 106 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. हाई कोर्ट ने इस दौरान बीजेपी नेता कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर, प्रवेश वर्मा के बयानों को अदालत में चलवाया.

दिल्ली में स्कूल बंद, टल गई परीक्षा

हिंसा के माहौल को देखते हुए दिल्ली सरकार ने अभी स्कूलों को बंद रखने का फैसला लिया है. उत्तर पूर्व इलाके के सभी स्कूल बंद रहेंगे, वहीं CBSE की गुरुवार को होने वाली परीक्षा भी रद्द कर दी गई है.

हिंसा के तीन दिन बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय एक्टिव हुआ और अब दिल्ली की सड़कों पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती को बढ़ा दिया गया है. दिल्ली में अब 45 अर्धसैनिक बलों की कंपनियां तैनात की गई हैं. दिल्ली के चांदबाग, गोकुलपुरी, मौजपुर, जाफराबाद इलाके में अभी भी भारी संख्या में सुरक्षाबल तैनात हैं.