आतंकियों की भर्ती रुकी पर सीमापार से घुसपैठ जारी-DGP दिलबाग सिंह

0
81
views

जम्मू-कश्मीर में सेना की सख्त चौकसी के बीच अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद हालात सामान्य होते नजर आ रहे हैं. राज्य के DGP दिलबाग सिंह ने बुधवार को कहा कि आतंकी संगठनों में स्थानीय युवाओं के नई भर्ती होने की कोई रिपोर्ट नहीं है.

  • DGP ने कहा कि दक्षिणी कश्मीर में आतंकियों द्वारा फल विक्रेताओं को धमकाने के कुछ मामले सामने आए हैं.
  • लेकिन पुलिस को स्थिति के बारे में पता है और हमारा काम यह देखना है कि उन्हें कोई डरा न सके.
  • दिलबाग सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा, ‘आतंकी संगठनों में स्थानीय युवाओं की नई भर्तियों की कोई रिपोर्ट नहीं है. कुछ युवाओं को बहकाया गया.
  • लेकिन उनमें से कई को हम वापस लाने में सफल रहे.
  • उन्होंने कहा, कुछ जगह घुसपैठ भी होने की खबरें हैं और पिछले महीने गुलमर्ग सेक्टर में दो पाकिस्तानी आतंकवादियों को सेना ने पकड़ा था.
  • 4 सितंबर को सेना ने कहा था कि घाटी में आतंक फैलाने के लिए पाकिस्तान कश्मीर में आतंकियों को भेजने की पूरी कोशिश कर रहा है.
  • वीडियो क्लिप्स में दिखाया गया कि लश्कर-ए-तैयबा के दो पाकिस्तानी आतंकवादी- मोहम्मद खलील और मोहम्मद नजीम को 21 अगस्त को गुलमर्ग सेक्टर में गिरफ्तार किया गया था. ये दोनों रावलपिंडी के रहने वाले थे.

घाटी में मौजूदा हालात पर DGP ने कहा, घाटी में जिंदगी पटरी पर लौट रही है और बच्चे स्कूल और कर्मचारी दफ्तरों में जा रहे हैं. हालांकि दक्षिणी कश्मीर में आतंकियों ने फल विक्रेताओं को डराया-धमकाया है ताकि वह फल इकट्ठा ना करें. लेकिन लोग ऐसा कर रहे हैं. DGP ने बुधवार को कहा कि घाटी के बाहर के बाजारों में फल पहुंचाने के लिए दक्षिणी कश्मीर के जिले से 230 ट्रक रवाना हुए.