किसानों को पराली जलाना पड़ेगा महंगा, पराली जलाने पर किसानों को होगी जेल

0
307
views

धान की कटाई के बाद किसान अक्सर धान के अवशेष को खुले में लगा देते है जिससे पर्यावरण के साथ-साथ आमजन के स्वास्थ्य को भी बडी हानि पहुंचती है. लेकिन इस बार ग्रीन ट्रिब्यूनल कोर्ट इस मामले में सख्त हो गया है और सरकार को इससे निपटने के सख्त आदेश दिए है. सरकार की ओर से प्रदेश के सभी जिला उपायुक्तों को पत्र जारी कर सख्ती से निपटने की तैयारी कर ली है.

सरकार के नियमानुसार अब किसी किसान ने धान के अवशेष को आग लगाई तो उस पर कृषि विभाग द्वारा भारी भरकम जुर्माना लगाया जाएगा, जिसको लेकर सर्कलुर जारी कर दिया है. इसके साथ ही ब्लाक लेवल पर तहसीलदार के नेतृत्व में कमेटिया बनाई गई है. जो किसान पर जुर्माना लगाने के बाद उसे भरने की स्थिति में किसान की जमीन को जब्त करने बारे जिला उपायुक्त को लिखेगी. इस नियम के अनुसार अगर कोई किसान नियमों की उल्लंघना करता है तो उसे जेल भी जाना पड़ सकता है.

धान के अवशेष जलाने वाले किसानों पर एकड़ के हिसाब से जुर्माना लगाया जाएगा. 2 एकड़ तक के किसान पर ढ़ाई हजार रुपए, ढ़ाई एकड़ से 5 एकड़ तक के किसान को 5000 रुपए, 5 एकड़ से अधिक के किसान पर 15000 रुपए जुर्माने का प्रावधान है. अगर कोई किसान के 2 से 5 बार आग लगाने पर 5 गुणा जुर्माना लिया जाएगा. अगर कोई किसान जुर्माना नहीं भरता तो उसकी जमीन को साथ में अटैच किया जाएगा.