मुस्लिम महिलाओं के बाल कटवाने और आईब्रो बनवाने के खिलाफ दारूल-उलूम देवबंद का फतवा

0
78
views

देवबंद

मुस्लिम महिलाओं के बाल कटवाने और आईब्रो बनवाने के खिलाफ फतवा जारी हुआ है। फतवा दारुल उलूम देवबंद ने जारी किया है। देवबंद के मौलाना काजमी ने यह जानकारी दी।

यह पहला मौका नहीं है जब देवबंद ने महिलाओं के खिलाफ ऐसा कोई फतवा जारी किया हो। इससे पहले अप्रैल 2017 में तंजीम उलेमा ए हिंद के एक मौलाना ने विवादित बयान दिया था। मौलाना ने अपने बयान में मुस्लिम महिलाओं का नौकरी करना इस्लाम के खिलाफ बताया था।

तंजीम उलेमा ए हिंद के प्रदेश अध्यक्ष और देवबंद के मौलाना नदीम उल वाजदी ने कहा था कि महिलाओं को नौकरी नहीं करना चाहिए, यह इस्लाम के खिलाफ है। इसकी बजाय उन्हें घर में रहकर घर के काम और बच्चों की परवरिश करनी चाहिए। अगर घर में कोई कमाने वाला हो तो महिला नौकरी ना करे और अगर कमाई के लिए जाना पड़े तो वो चेहरा ढककर काम करे।

वहीं एक अन्य मौके पर देवबंद अपने एक फतवे में भारत माता की जय कहने को भी गलत करार दिया था। साथ ही तलाक को लेकर कहा गया था कि इसके लिए महिला का मौजूद होना जरूरी नहीं है, फोन पर भी तलाक दिया जा सकता है।