रेलवे टेंडर घोटाला : राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव को पटियाला हाउस कोर्ट से मिली जमानत

0
515
views

रेलवे टेंडर घोटाला मामले में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की पत्नी राबड़ी देवी और बेटे तेजस्वी यादव को बड़ी राहत मिली है. शुक्रवार को दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव को जमानत दे दी है. कोर्ट ने दोनों को एक-एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दी. अब इस मामले की अगली सुनवाई छह अक्‍टूबर को होगी.

शुक्रवार को राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में पेश हुए. हालांकि लालू प्रसाद यादव आज कोर्ट में पेश नहीं हुए. इसकी वजह से कोर्ट ने उनको जमानत नहीं दी. फिलहाल कोर्ट ने सीबीआई की अर्जी पर लालू प्रसाद यादव के खिलाफ छह अक्‍टूबर के लिए प्रोडक्शन वारंट जारी किया है. बता दें कि गुरुवार को ही लालू यादव ने रांची कोर्ट में सरेंडर किया था.

हालांकि, जेल के बाद लालू यादव को रिम्स अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. काफी लंबे समय के बाद रिम्स अस्पताल पहुंचे लालू यादव की पहली रात करवटें बदलते हुए बीती. बताया जा रहा है कि लालू ने शुक्रवार को नाश्ते में सिर्फ अंडा, मूंगदाल का दलिया और पपीता लिया. इस मामले में पटियाला हाउस कोर्ट ने लालू प्रसाद, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बेटे तेजस्वी यादव समेत अन्य आरोपियों को आज (31 अगस्त) को पेश होने के लिए समन भेजा था. उन्होंने इस मामले में दो कंपनियों समेत 14 आरोपियों को समन जारी किया था.

वहीं प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आईआरसीटीसी होटल आवंटन धनशोधन मामले में 29 अगस्‍त को तीनों के खिलाफ अपना पहला आरोप-पत्र दायर किया था. इसमें लालू के खास करीबी प्रेमचंद गुप्ता और उनकी पत्नी सरला गुप्ता को आरोपी बनाया गया है.

इस मामले में केंद्रीय रेल मंत्री रहे लालू प्रसाद यादव पर 2004 से 2006 के बीच अपने पद का दुरुपयोग कर आईआरसीटीसी के रांची और पुरी स्थित दो होटलों को चलाने का ठेका सुजाता होटल्स को देने का और इसके बदले पटना में दो एकड़ बेशकीमती जमीन प्राप्त करने का आरोप है.