भारी बारिश और बर्फबारी से बढ़ने लगी ठंड, ऊना के मिनी सचिवालय में पानी भरा

0
200
views

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश का दौर नहीं थम रहा है. मंगलवार सुबह से ही घने बादल छाए हुए थे व दस बजे के बाद बारिश का दौर शुरू हो गया. जिला कांगड़ा के धर्मशाला व धौलाधार रेंज में भारी बारिश हुई. वहीं, धौलाधार की पहाडि़यों पर हिमपात का दौर भी शुरू हो गया है. इस कारण समूची कांगड़ा घाटी में ठंड बढ़ गई है. जिला हमीरपुर, बिलासपुर, ऊना व चंबा में भी भारी बारिश हो रही है. ऊना जिला में बिजली आपूर्ति भी ठप हो गई है. वहीं, मिनी सचिवालय समेत कई जगह पानी भर गया है. दिन में अंधेरा छा जाने के कारण वाहन लाइट ऑन करके चल रहे हैं. हमीरपुर जिला में भारी बारिश से किसानों की मक्की की फसल को नुकसान पहुंचा है.

मौसम वैज्ञानिकों ने मंगलवार को प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में बारिश की संभावना जताई थी. प्रदेश में रविवार व सोमवार को भी बारिश हुई, इससे करीब चार करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान है. इसमें घरों व सड़कों को क्षति पहुंची है. बारिश, बर्फबारी व भूस्खलन से 48 सड़कें बंद हैं. इनमें सिरमौर में 41, सोलन में दो, मंडी में दो, हमीरपुर में दो और बिलासपुर में एक सड़क बंद है. शिमला में सोमवार को तापमान में एक डिग्री तक की गिरावट दर्ज की गई. प्रदेश में सबसे अधिक वर्षा सिरमौर में दर्ज की गई है.