रैपिड मेट्रो पर हाईकोर्ट का फैसला, प्रदेश सरकार 16 तक टेक ओवर करेगी गुड़गांव मेट्रो

0
249
views

देशभर में साइबर सिटी के रूप में जाने जाने वाले गुरुग्राम के साथ-साथ दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद समेत एनसीआर के शहरों के लिए पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट (Punjab and Haryana High court) की ओर से बड़ी खुशखबरी आई है. दरअसल, गुरुग्राम में गुरुग्राम रैपिड मेट्रो (Gurugram Rapid Metro) 16 अक्‍टूबर तक चलेगी. पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) के दो जजों की निगरानी में गुरुग्राम रैपिड मेट्रो को दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro rail corporation) को हैंड ओवर का काम सौंपा. इसी के साथ पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने एक महीने के भीतर नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (Comptroller and Auditor General of India) को कंपनी के खाते को ऑडिट करने का भी आदेश दिया है. वहीं, ऐसी स्थिति में अगले 16 अक्‍टूबर तक रैपिड मेट्रो प्रदाता कंपनी सेवा जारी रखेगी, ऐसा आदेश भी हाई कोर्ट की ओर से आया है.

 

दिल्ली मेट्रो चलाएगा रैपिड मेट्रो

 

वहीं, अपुष्ट सूत्रों के मुताबिक, हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के साथ समझौता किया है, जिसके तहत गुरुग्राम में मेट्रो चलाने की तैयारी है. गुरुग्राम में रहने वालों के लिए यह खबर राहत ला सकती है. रैपिड मेट्रो रेल ने ऑपरेशन बंद करने का फैसला किया है जिसके बाद डीएमआरसी के साथ यह समझौता किया गया है.

 

रैपिड मेट्रो होगी बंद, दौड़ेगी दिल्ली मेट्रो ट्रेन

वहीं, एक कयास यह भी लगाया जा रहा है कि डीएमआरसी एक महीने के बाद गुरुग्राम रैपिड मेट्रो को बंद करने के बाद उसे बंद कर देगा और उसके ही ट्रैक पर अपनी मेट्रो दौड़ाएगा.