हिमाचल पुलिस भर्ती : गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में हुए कई खुलासे

0
67
views

हिमाचल पुलिस भर्ती की लिखित परीक्षा पास करवाने का खेल उत्तर प्रदेश और हरियाणा के कोचिंग सेंटरों (एकेडमी) से चल रहा था। पुलिस जांच में अलीगढ़ के एक कोचिंग सेंटर का नाम भी आया है। आरोपी बाहरी राज्यों में कोचिंग लेने वाले हिमाचल के छात्रों को अपने जाल में लालच देकर फंसाते थे। उधर, सोमवार को एसआईटी ने अपनी जगह दूसरों से परीक्षा दिलवा रहे तीन अभ्यर्थियों समेत चार को गिरफ्तार किया है।
इनमें एक मदद करने वाला है। परौर परीक्षा केंद्र के अभ्यर्थियों से लिखित परीक्षा पास करवाने के लिए चार से छह लाख रुपये तक की डील हुई थी। पैसा देने के लिए एक अभ्यर्थी ने तो जमीन तक बेच दी थी। मुख्य सरगना जवाली का बिक्रम है जिसने अभ्यर्थियों से एडवांस में 20 से 50 हजार रुपये तक लिए थे। अभ्यर्थियों से उनके दस्तावेज भी ले लिए थे.

लिखित परीक्षा पास करवाने के बाद पूरी रकम वसूलने पर इन्हें लौटाना था। अब तक सॉल्वरों समेत कुल 17 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें एक आरोपी राजस्थान का है। सात हिमाचल के, दो उत्तरप्रदेश और सात हरियाणा के हैं। मुख्य सरगना फरार है। दो युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ की हो रही है। सोमवार को सभी 17 आरोपियों को पालमपुर कोर्ट में पेश करने के बाद 16 अगस्त तक पुलिस रिमांड पर भेजा गया है।

सूत्रों के अनुसार हरियाणा, यूपी और हिमाचल के आरोपियों के अलग-अलग गिरोह थे। इस फर्जीवाड़े को अंजाम देने के लिए तीनों गिरोहों के आरोपियों ने एकसाथ मिलकर अंजाम दिया। डील के अनुसार लिखित परीक्षा के बाद अगर साक्षात्कार में अभ्यर्थी बाहर हो जाता है तो वह उसकी जिम्मेदारी होगी। एएसपी कांगड़ा दिनेश कुमार ने कहा कि हर अभ्यर्थी से छह लाख तक डील हुई थी। पूछताछ जारी है।