INDvAUS : सिडनी वनडे में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 34 रन से हराया

0
197
views

तीन वनडे मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 34 रन से हरा दिया है. सिडनी में खेले गए इस मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 288 रन बनाए. इसके बाद लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया रोहित शर्मा के शानदार शतक के बावजूद 50 ओवर में 9 विकेट पर 254 रन ही बना सकी. वहीं इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने 3 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है.

सिडनी वनडे में भारत की शुरुआत बेहद खराब रही. 4 रन के कुल स्कोर पर टीम इंडिया ने शिखर धवन, विराट कोहली और अवंति रायडु के रूप में अपने तीन अहम विकेट गवां दिया. ऑस्ट्रेलिया की तरफ से पहला ओवर बेहरनडॉर्फ ने फेंका और अपने पहले ओवर की आखिरी गेंद पर उन्होंने धवन को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया. धवन अपना खाता भी नहीं खोल पाए. कप्तान विराट कोहली इस मैच में नहीं चल पाए और रिचर्डसन की गेंद पर कैच स्टॉयनिस को कैच दे बैठे. कोहली सिर्फ तीन रन बनाकर आउट हो गए. उसी ओवर में रिचर्डसन की गेंद पर अंबाती रायडू भी एलबीडब्ल्यू आउट हो गए. रायडू भी बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए.

इसके बाद ओपनर रोहित शर्मा और महेंद्र सिंह धोनी ने पारी को संभाला और टीम के स्कोर को 100 रन के पार पहुंचाया. दोनों बल्लेबाजों ने चौथे विकेट के लिए उपयोगी 137 रन जोड़े. इस बीच धोनी ने अपना अर्धशतक पूरा किया. उन्होंने 15 इंटरनेशनल पारियों के बाद फिफ्टी जड़ी. लेकिन 51 रन के स्कोर पर धोनी LBW आउट हो गए. 35 ओवर में भारत का स्कोर 150 रन के पर पहुंच गया. इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरे दिनेश कार्तिक अपना कारनामा नहीं दिखा पाए और रिचर्डसन की गेंद पर खराब शॉट खेलकर बोल्ड हो गए.

कार्तिक के जाने के बाद रोहित शर्मा ने रवींद्र जडेजा के साथ पारी को आगे बढ़ाया और अपने वनडे करियर का 22वां शतक लगाया. उन्होंने 110 गेंदों का सामना करते हुए 100 रन बनाए. ये ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे में उनका सातवां शतक है. इस बीच रवींद्र जडेजा आठ रन बनाकर रिचर्डसन की गेंद पर कैच आउट हो गए. अंत में जडेजा रोहित शर्मा भी बाकी के बचे रन जुटाने के प्रयास में आउट हो गए. रोहित शर्मा ने 128 गेंदों पर 133 रन की शानदार पारी खेली. भुवनेश्वर 23 गेंदों पर 4 चौकों की मदद से 29 रन बनाकर नाबाद पविलियन लौटे.

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत को 289 रन का लक्ष्य दिया. इस मैच में ऑस्ट्रेलिया को कप्तान एरॉन फिंच (6) के रूप में पहला झटका लगा. तीसरे ओवर में भुवनेश्वर कुमार ने फिंच को बोल्ड किया. इसके बाद 10वें ओवर में कुलदीप यादव ने एलेक्स कैरी को रोहित शर्मा के हाथों कैच आउट कराया. एलेक्स कैरी ने 31 गेंदों में 5 चौकों की मदद से 24 रन बनाए.

इसके बाद उस्मान ख्वाज़ा और शॉन मार्श ने ऑस्ट्रेलियाई पारी को संभाला. दोनों के बीच तीसरे विकेट लिए 92 रन की साझेदारी हुई. 29वें ओवर में रविंद्र जडेजा ने जोड़ी का अंत किया. जडेजा की गेंद पर ख्वाजा ने स्वीप लगाने की कोशिश की और वो चूक गए. जडेजा ने जोरदार अपील की और अंपायर ने ख्वाजा को आउट करार दिया. ख्वाजा ने 81 गेंदों में 59 रन बनाए.

शॉन मार्श ने भी अपनी फिफ्टी जड़कर मेजबान टीम को 200 के करीब पहुंचा दिया. मार्श और पीटर हैंड्सकॉम्ब ने चौथे विकेट के लिए 53 रन जोड़े. कुलदीप यादव ने इस जोड़ी को तोड़ते हुए शॉन मार्श को शमी के हाथों कैच आउट कराया. मार्श 70 गेंदों में 54 रन बनाकर आउट हुए.

इस बीच हैंड्सकॉम्ब ने अपने वनडे करियर की दूसरी फिफ्टी भी पूरी कर ली. उन्होंने 50 बॉल में अपनी फिफ्टी पूरी की और इसके बाद रन गति को बढ़ाने के लिए और तेजी से रन जुटाए. हालांकि हैंड्सकॉम्ब तेजी से रन बटोरने के प्रयास में भुवी की गेंद पर एक्स्ट्रा कवर्स में खड़े शिखर धवन को कैच देकर आउट हुए. ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 50 ओवर में पांच विकेट के नुकसान पर 288 रन रहा. स्टोइनिश 47 और मैक्सवेल 11 रन बनाकर नाबाद रहे. स्टोइनिश और मैक्सवेल के बीच 16 गेंदों में 34 रनों की साझेदारी रही. भारत की ओर से कुलदीप और भुवी ने दो-दो तो जडेजा ने एक विकेट लिया.