अमृतसर: ISI जासूस गिरफ्तार, कोर्ट ने 5 दिन की रिमांड पर भेजा

0
439
views

अमृतसर स्पेशल ऑपरेशन सेल को एक बड़ी कामयाबी मिली है. उन्होंने मिलिट्री एजेंसी के साथ संयुक्त ऑपरेशन में रवि कुमार नाम के एक जासूस को पकड़ा है.  पुलिस ने जीटी रोड मानांवाला बाईपास के पास नाकाबंदी कर रवि कुमार को गिरफ्तार कर लिया. अमृतसर स्पेशल ऑपरेशन सेल ने पाकिस्तान के जासूस को अमृतसर कोर्ट में पेश कर 5 रिमांड पर लिया है. अधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रवि कुमार पाकिस्तानी इंटेलिजेंस एजेंसी आईएसआई के लिए काम करता था और फेसबुक के ज़रिए आईएसआई के संपर्क में आया था. उसे 20 फरवरी 2018 को दुबई बुलाया गया था, जहां 4 दिन 24 फरवरी तक रवि की ट्रेनिंग हुई.

बताया जा रहा है कि सात महीने पहले ही आईएसआई ने फेसबुक के ज़रिए उसकी नियुक्ति की थी. फिलहाल आईएसआई जासूस रवि कुमार पर ऑफिसियिल सिक्रेट एक्ट और इंडियन पैनल कोड की धारा के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है और पूछताछ की जा रही है. रवि कुमार के पास से सेना की गतिविधियों से जुड़े दस्तावेज, सेना प्रतिष्ठान के फोटो, नक्शे, सेना की आक्रामक रणनीतियों की सूचनाएं मिली हैं. बताया जा रहा है कि जासूस रवि कुमार मोगा जिले के गांव डालेके का रहने वाला है.

अमृतसर पुलिस के मुताबिक आईएसआई….जासूस रवि कुमार की जरूरतों का ख़्याल रखती थी और बदले में रवि कुमार सेना से जुड़ी ख़ुफिया सूचना पाकिस्तान पहुंचा रहा था. माना जा रहा है कि फिलहाल वो किसी बड़े टास्क की तैयारी में था और इसी सिलसिले में वो अमृतसर आया था जहां पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया.

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आई.एस.आई. ने फेसबुक पर सैंकड़ों की गिनती में लड़कियों के नाम पर फर्जी अकाउंट बना रखे हैं, जिनके जरिए भारत की युवा पीढ़ी को अपने जाल में फंसाकर पहले तो उनके साथ दोस्ती की जाती है और फिर पाकिस्तानी सेना के निर्देशों पर उन अकाउंट के साथ जुड़े भारतीय युवा को जासूसी के लिए इस्तेमाल किया जाता है. यह भारत के लिए एक खतरे की घंटी है जिसका आज गिरफ्तार किए गए जासूस रवि कुमार से खुलासा हुआ है. बेरोजगार युवकों, सेना से रिटा. हुए अधिकारियों को फेसबुक के जरिए फंसाया जा रहा है और उसके उपरांत उन्हें आई.एस.आई. अपने मकसद के लिए इस्तेमाल कर रही है. खुफिया एजेंसी अब उन अकाउंटस की भी पहचान की जा रही है, जो फर्जी बनाकर भारत को हानि पहुंचाने के लिए इस्तेमाल हो रहे हैं.