दिसंबर 2017 में लापता हुए जवान का मिला शव, दी गई अंतिम विदाई

0
81
views

11 दिसंबर 2017 को लापता हुए जवान श्म्मी का आखिरकार 6 महीने बाद शव बरामद हो गया है, कांगड़ा जिला के इंदौरा तहसील के जवान शम्मी का शव 6 महीने तक बर्फ में दबा हुआ था, बताया जाता है कि श्रीनगर के उरी सेक्टर में आतंकियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन के दौरान बर्फबारी में शम्मी लापता हो गए थे.शहीद जवान शम्मी सिंह को बारामूला के सेक्टर हेडक्वाटर में भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई.

अधिकारियों ने श्रद्धांजलि देने के बाद शहीद का पार्थिव शरीर उसके गांव मकड़ोली में रवाना किया। जहां सैनिक सम्मान से उसका अंतिम संस्कार किया गया, आपको बता दें कि वह डेढ़ साल पहले ही श्रीनगर में सेना के लिए भर्ती हुआ था, उरी सेक्टर में भारी बर्फबारी के दौरान 3 जवान बर्फ में दब गए थे और इस दौरान सेना के रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान दो जवानों के शव निकाल लिए गए थे, लेकिन शहीद शम्मी का शव नहीं मिल पाया था. इस दौरान सेना ने उनके शव को ढूंढने के लिए प्रशासन के साथ 12 दिन तक रेस्क्यू चलाया था, लेकिन वे नाकाम रहे, अब बर्फ पिघलन के चलते शव खुद ही बाहर आ गया.